पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Open Dainik Bhaskar in...
Browser
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हादसे को झुठलाने की कोशिश:भट्‌ठे में बाल मजदूर की जेसीबी से कुचलकर माैत, जबरन दफनाने का विरोध, पोस्टमार्टम के बहाने शव किया गायब

भागलपुर2 महीने पहले
  • राघोपुर क्षेत्र के डुमरी पंचायत स्थित किसान चौक के पास प्रेम चिमनी ईंट भट्ठा की घटना
  • कूचबिहार के माथाभांगा का रहने वाला था किशाेर, चिमनी मालिक ने पोस्टमार्टम में भेजने के लिए बुलाया था प्राइवेट एंबुलेंस
Loading advertisement...

थाना क्षेत्र के डुमरी पंचायत स्थित किसान चौक के पास एनएच-106 किनारे अवस्थित प्रेम ईंट भट्ठा परिसर में बुधवार को जेसीबी मशीन के नीचे कुचले जाने से घटना स्थल पर ही एक बाल मजदूर की मौत हो गई। मृतक की पहचान पश्चिम बंगाल के कूचबिहार जिला के माथाभांगा थाना क्षेत्र स्थित माथाभांगा गांव निवासी जाकिर मियां का 14 वर्षीय पुत्र मो. सैफुल के रूप में हुई है। पुलिस को परिजनों ने बताया कि चिमनी संचालक ने बाल मजदूर की जेसीबी मशीन से दबाकर हत्या कर दी है।

जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह करीब 10 बजे प्रेम ईंट भट्ठा पर मजदूर काम कर रहा था। इसी क्रम में जेसीबी मशीन के नीचे वह दब गया। जब काम कर रहे अन्य मजदूरों ने देखा तो शोर मचाना शुरू किया। हल्ला पर चिमनी पर कार्यरत सभी मजदूर व आसपास के लोग भी चिमनी भट्ठा पर इकट्ठा हो गए। स्थानीय लोगों ने राघोपुर थाना को घटना की सूचना दी। लेकिन 2 घंटे बाद घटनास्थल पर पुलिस पहुंची। तब तक चिमनी मालिक द्वारा शव को ठिकाने लगाने के उद्देश्य से निजी एम्बुलेंस से अन्यत्र भेज दिया गया।

दुर्घटना की सूचना के दो घंटे बाद पहुंची पुलिस
नाबालिक की मौत की सूचना पर पहले तो पुलिस दो घंटे बाद आई। इधर, भट्ठा मालिक मो. शाहिद व रामानंद चौधरी ने आनन-फानन में चिमनी पर पहुंचकर शव को ठिकाने लगाने की नीयत से चिमनी से करीब आधा किलोमीटर दूर पश्चिम दिशा में शव को एक बांसबाड़ी के पास ले जाकर दफनाने का प्रयास किया। जिसका परिजनों ने काफी विरोध किया। इस दौरान हो-हंगामा देख भट्ठा मालिक द्वारा शव को पुनः चिमनी भट्ठा के पास लाया गया। पोस्टमार्टम करवाने की बात कह एक निजी एम्बुलेंस से उसे अन्यत्र भेज दिया गया।

ईंट उठाने के दौरान जेसीबी से बच्चे को कुचल दिया
मृतक की बहन राहिमा बीबी, नजरुल इस्लाम व अन्य मजदूरों ने बताया कि मो. सैफुल भट्ठा पर काम कर रहा था। हर दिन की तरह हाथ ठेला पर से ईंट जेसीबी मशीन के बॉकेट में डाल रहा था। तभी जेसीबी मशीन के चालक ने जेसीबी से उसको दबा दिया। घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

मजदूरों ने पुलिस को बताया कि ईंट उठाने के क्रम में जेसीबी मशीन से उसको दबा दिया। जिसमें उसकी मौत हो गई। घटना के बाद से चिमनी मालिक व मुंशी सहित अन्य स्टाफ भी चिमनी से फरार हो गए थे। पुलिस ने जब शव के बारे में पूछा तो मजदूरों ने पुलिस को बताया कि चिमनी मालिक पोस्टमार्टम करवाने शव एंबुलेंस से ले गए हैं।

घटना से आहत मजदूर के दो सहयोगी बेहोश
परिजनों ने बताया कि उनलोगों का घर पश्चिम बंगाल है। वे लोग बंगाल से आकर प्रेम ईंट भट्ठा चिमनी में मजदूरी करते हैं। चिमनी वाले के द्वारा साजिश के तहत एक अबोध बालक को जेसीबी मशीन के नीचे दबाकर मार दिया गया है। घटना के बाद परिजनों का चीख-पुकार से बुरा हाल था। हृदयविदारक घटना को देख मृतक की मां व पिता सहित दो सहयोगी दिलबर हुसैन व मदन बर्मन बेहोश हो गए। जिसे रेफरल अस्पताल पहुंचाया गया।

प्रेम ईंट चिमनी भट्ठा पर पूर्व में भी हुई है मजदूर की मौत
बता दें कि गत 11 अप्रैल 2020 को प्रेम ईंट चिमनी भट्ठा परिसर में पगमेल मशीन में फंसकर राघोपुर थाना क्षेत्र के अचलपुर गांव वार्ड 7 निवासी 26 वर्षीय अजीत कुमार मंडल नामक एक मजदूर की मौत हो गई थी। जिसमें चिमनी मालिक ने दबंगई के साथ परिजनों को भय दिखाने के साथ प्रलोभन देकर मामला रफा-दफा करने का प्रयास किया था।

परिजनों के फर्द बयान के आधार पर मामला भी दर्ज की थी। इधर, समाचार प्रेषण तक सूचना के अनुसार चिमनी मालिक द्वारा मृतक सहित मृतक के परिजनों को जबरदस्ती बंगाल भेज दिया है। भट्ठा पर काम कर रहे लोगों ने बताया कि अन्य मजदूर को भी बंगाल भेजने की तैयारी है।

शव को गायब कर बहाना कर रहा चिमनी मालिक, कार्रवाई जारी
सूचना पर पुलिस पदाधिकारी को घटना स्थल पर भेजा गया था। चिमनी मालिक द्वारा शव को गायब कर बहाना बनाया जा रहा है। पीड़ित द्वारा आवेदन प्राप्त नहीं हुआ है। घटना को लेकर पुलिस अग्रेतर कार्रवाई की प्रक्रिया कर रही है।
-प्रशांत कुमार, थानाध्यक्ष, राघोपुर

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.