पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आंदोलन के नाम पर उग्र प्रदर्शन:सीकरी बार्डर के पास बवाल करने वाले 2 हजार अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या करने के प्रयास की धारा में केस दर्ज

फरीदाबादएक महीने पहले
फरीदाबाद। सीकरी बार्डर के पास सोफ``ता चौक पर पुलिस के ऊपर टैक्टर चढ़ाने का प्रयास करते उपद्रवी।
  • गदपुरी पलवल पुलिस ने दर्ज किया है केस, चौकी में तैनात हेड कांस्टेबल ने दर्ज कराया है केस
  • वीडियो फुटेज के आधार पर की जाएगी उपद्रव करने वालों की पहचान
Loading advertisement...
Open Dainik Bhaskar in...
Browser

गणतंत्र दिवस समारोह के दिन सीकरी बार्डर पर उग्र प्रदर्सन करने वाले करीब 2000 अज्ञात लोगों के खिलाफ पलवल की गदपुरी पुलिस ने हत्या के प्रयास समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। थाने में तैनात हेड कांस्टेबल दीपक कुमार की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई है। एसपी पलवल का कहना है कि वीडियो फुटेज के आधार पर हंगामा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की कई टीमें बनाकर उपद्रव करने वालों की पहचान की जा रही है।

भास्कर रिपोर्टर की आंखो देखी:ट्रैक्टर परेड की अगुआई वरिष्ठों के हाथ से निकलकर अराजक युवाओं के हाथों में आ गई, इसी से परेड हिंसक भीड़ में बदली

नेशनल हाईवे-19 पर केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। गणतंत्र दिवस पर आंदोलनकारी किसानों ट्रैक्टर मार्च निकालते हुए पलवल से फरीदाबाद की सीमा में सीकरी के पास सोफ्ता चौक पहुंच गए। फरीदाबाद पुलिस ने जब उन्हें रोकने का प्रयास किया तो वह जबरन बैरिकेड तोड़ने का प्रयास कर आगे बढ़ने लगे। पुलिस अधिकारियों ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह दिल्ली जाने को लेकर अड़े रहे। इसी दौरान पलवल में धरने पर बैठे मध्य प्रदेश, राजस्थान और पलवल के कुछ किसान ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर नेशनल हाईवे पर सीकरी पहुंच गए। बताया जाता है कि इस ट्रैक्टर रैली में शामिल कुछ शरारती तत्वों ने पुलिस पर पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया।

गदपुरी पुलिस ने किया मुकदमा दर्ज

एसपी पलवल दीपक गहलावत का कहना है कि गदपुरी थाना पुलिस ने किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसक घटना के संबंध में हवलदार दीपक कुमार की शिकायत 400-450 बिना नंबर के ट्रैक्टरों व 2000 से 2200 अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस पार्टी पर जान लेवा हमला करने, नेशनल हाईवे को जाम करने व सरकारी ड्यूटी में बाधा पहुंचाने सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया और घटना की जांच की जा रही है।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...