पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों का दिल्ली कूच:फरीदाबाद में पुलिस ने लाठीचार्ज से रोका आंदोलनकारियों को, 2 दर्जन से अधिक लोग हिरासत में; धारा-144 लागू

फरीदाबादएक महीने पहले
फरीदाबाद में दिल्ली की ओर बढ़ रहे किसानों को रोकने के लिए लाठियां बरसाती पुलिस।
  • सीकरी में भी बैरिकेड लगाकर नेशनल हाईवे को एक लाइन खोला था पुलिस ने
Loading advertisement...
Open Dainik Bhaskar in...
Browser

(भाेला पांडेय). गणतंत्र दिवस पर किसान आंदोलन फरीदाबाद में उग्र हो गया। यहां दिल्ली की ओर बढ़ रहे किसानों को पुलिस ने सीकरी में बैरिकेड लगाकर रोकने की कोशिश की, लेकिन किसान ट्रैक्टर लेकर जबरन आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे थे तो पुलिस ने लाठियां बरसानी शुरू कर दी। इस घटना में कई किसान घायल हुए हैं और 2 दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है। जिला मैजिस्ट्रेट यशपाल ने भारतीय किसान यूनियन द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन के मद्देनजर जिला में जिला ने किसी भी तरह के तनाव, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान, जनहानि की आशंका के चलते धारा 144 लागू करने के आदेश जारी किए हैं।

किसान आंदोलन को लेकर फरीदाबाद पुलिस ने पूरे शहर में सभी प्रमुख सड़कों पर घेराबंदी कर रखी थी। सीकरी में भी बैरिकेड लगाकर नेशनल हाईवे को एक लाइन खोला गया था। आज पलवल में बैठे मध्य प्रदेश राजस्थान और पलवल के कुछ किसान चोरी-छिपे ट्रैक्टर-ट्रॉली गांव के रास्ते से होते हुए नेशनल हाईवे सीकरी की ओर बढ़ रहे थे। पहले तो फरीदाबाद पुलिस ने उन्हें रोककर समझाने का प्रयास किया, लेकिन ट्रैक्टर रैली में शामिल किसान कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे। इसके बाद जब किसानों ने ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर बैरिकेड्स के आगे बढ़ने का प्रयास किया तो पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया।

लाठीचार्ज में करीब दर्जनभर किसान घायल हुए हैं और 2 दर्जन से अधिक किसानों को हिरासत में ले लिया गया है। सीकरी में इसकी तनावपूर्ण बनी हुई है। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है। किसी को भी सीकरी से आगे बढ़ने नहीं दिया गया है। पुलिस अफसर का कहना है कि किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया है। फिलहाल स्थिति अब सामान्य बताई जा रही है।

उधर जानकारी मिली है कि कुछ राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता किसानों की रैली में शामिल हो गए थे और जब उन्हें सीकरी बॉर्डर पर रोका गया तो रैली में शामिल राजनीतिक दलों के कुछ शरारती तत्वों ने पुलिस पर ईंट-पत्थर फेंकने लगे इसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

DM ने लगाई धारा-144

जिला मैजिस्ट्रेट यशपाल ने भारतीय किसान यूनियन द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन के मद्देनजर जिला में जिला ने किसी भी तरह के तनाव, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान, जनहानि की आशंका के चलते धारा 144 लागू करने के आदेश जारी किए हैं। जिला मैजिस्ट्रेट ने कहा कि किसी भी तरह के तनाव, जनहानि व सार्वजनिक संपप्ति को नुकसान की आशंका के चलते भारतीय दंड संहिता की 1973 की धारा 144 के तहत जिला में पांच या पांच से अधिक व्यञ्चितयों के इकट्ठा होने, लाठी, जेली, तलवार, कुलहाड़ी व किसी भी तरह का आग्नेय अस्त्र लेकर चलने पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी। यह आदेश 26 जनवरी 2021 से आगामी आदेशों तक लागू रहेंगे।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...