पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आंदोलन के नाम पर उग्र प्रदर्शन:पलवल में 2 हजार से ज्यादा किसानों पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज, फरीदाबाद में धारा 144 लागू

फरीदाबाद/पलवलएक महीने पहले
26 जनवरी को सीकरी बॉर्डर के पास पुलिस कर्मियों के ऊपर टैक्टर चढ़ाने का प्रयास करते उपद्रवी किसान।
  • पलवल जिले में गदपुरी पुलिस ने दर्ज किया केस, चौकी में तैनात हेड कांस्टेबल ने दी है शिकायत
  • वीडियो फुटेज से की जाएगी उपद्रवियों की पहचान, किसान नेताओं को पुलिस जारी कर रही नोटिस
Loading advertisement...
Open Dainik Bhaskar in...
Browser

26 जनवरी को सीकरी बॉर्डर पर ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद बुधवार को पुलिस ने 2 हजार से ज्यादा किसानों पर केस दर्ज किया है। पलवल की गदपुरी थाने में तैनात हेड कांस्टेबल दीपक कुमार की शिकायत पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में FIR दर्ज की गई है। अब उन किसानों की पहचान की जा रही है, जिन्होंने पुलिस पर ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास और पथराव किया था।

SP पलवल दीपक गहलावत ने बताया कि वीडियो फुटेज के आधार पर उग्र प्रदर्शन करने वाले किसानों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस की कई टीमें बनाकर उपद्रव करने वालों की पहचान की जा रही है। उधर, फरीदाबाद के DC यशपाल यादव ने पूरे जिले में धारा 144 लागू कर दी है। किसी को भी हथियार लेकर चलने और पांच से ज्यादा व्यक्तियों के एक साथ एकत्र होने पर रोक लगा दी है।

पुलिस को निर्देश दिया गया है कि जो भी व्यक्ति धारा 144 का उल्लंघन करता है, उसके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई की जाए। फरीदाबाद और पलवल की पुलिस लगातार संवेदनशील स्थानों पर नजर बनाए हुए है। पलवल में तो मंगलवार शाम से बुधवार शाम तक इंटरनेट की सेवाएं भी पूरी तरह से बंद रखी गईं, ताकि कोई शरारती तत्व सोशल साइट पर भड़काऊ पोस्ट आदि न डाल सके।

पुलिस का कहना है कि पलवल के किसान ट्रैक्टर लेकर फरीदाबाद की ओर चल दिए थे। सीकरी के पास पलवल और फरीदाबाद पुलिस ने कंटेनर और बेरिकेड लगा रखे थे, ताकि किसानों को रोका जा सके। ट्रैक्टर परेड जब बेरिकेड के पास पहुंची तो ट्रैक्टर चालकों ने रफ्तार तेज कर ली। पुलिस कर्मियों ने उन्हें आगे बढ़ने से रोकने का प्रयास किया तो किसानों ने उन पर ट्रैक्टर चढ़ाने का प्रयास किया। पलवल SP और बल्लभगढ़ के DCP समझाने लगे तो पत्थर बरसाने शुरू कर दिए।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...