पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
No ad for you

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अपराध:गुमला में भाई-बहन की पत्थर से कुचल कर हत्या, कार से लोहरदगा जाने के दौरान हुई वारदात

गुमलाएक महीने पहले
लड़के की लाश सड़क किनारे मिली।
  • कार घटनास्थल से करीब 20 किलोमीटर दूर रुकी घाटी में बरामद की गई
  • भाई का शव सड़क किनारे जबकि बहन की लाश तालाब से बरामद की गई
No ad for you

गुमला जिले में रविवार देर रात भाई-बहन की बदमाशों ने पत्थर से कुचल कर निर्मम हत्या कर दी। दोनों ही कार से लोहरदगा जा रहे थे और इसी दौरान बीच रास्ते में यह घटना हुई। हत्या की वजह स्पष्ट नहीं है। घटना घाघरा थाना क्षेत्र के चुंदरी गांव के पास की है।

जिस कार से भाई-बहन लोहरदगा जा रहे थे वह वारदात वाली जगह से 20 किलोमीटर दूर रुकी घाटी से बरामद की गई। मौके पर पहुंची पुलिस शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस आपसी रंजिश व लूटपाट के एंगल पर मामले की जांच कर रही है।

लड़की का शव तालाब से बरामद किया गया।

मृतकों की पहचान संजीव रंजन भगत (20) और ममता खाखा (19) के रूप में की गई। ये घाघरा के कोटामाटी गांव के रहने वाले थे। फिलहाल, परिवार के साथ लोहरदगा में रह रहे थे। मृतक के परिजनों के अनुसार, संजीव और ममता, अपनी बड़ी बहन संगीता खाखा को कोटामाटी छोड़ने के लिए कार से आए थे। वापस जाते वक्त शाम हो गई और इसी दौरान बदमाशों ने बीच रास्ते में इस घटना को अंजाम दिया। रात होने पर भाई-बहन घर नहीं पहुंचे तो परिजनों ने घाघरा थाना प्रभारी काे देने की कोशिश की थी पर उनका मोबाइल फोन बंद था।

मां है सरकारी स्कूल में शिक्षिका
इधर, मृतकों के पिता बिरेंद्र भगत राज्यपाल सचिवालय स्वास्थ्य विभाग के असिस्टेंट पद से रिटायर कर्मी हैं। वहीं, मां सुलोचना सेन्हा प्रखंड के सीठीओ मिडिल स्कूल की शिक्षिका है। संजीव रंजन भगत ग्रेजुएशन कर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा था। ममता खाखा भी बीए फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रही थी। वहीं, बड़ी बहन संगीता खाखा पीजी कंप्लीट कर जॉब की तैयारी कर रही है।

घटनास्थल पर जुटी भीड़ व मामले की जांच करते पुलिसकर्मी।

ग्रामीणों के अनुसार, जहां वारदात हुई वहां शाम से ही 5-6 युवक जुटे हुए थे और कुछ लोगों से लूटपाट भी की थी। शक जाहिर किया जा रहा है कि भाई-बहन की हत्या उन्होंने ही की होगी। बदमाशों ने उनकी कार लूटकर रुकी घाटी में छोड़ दी। संजीव का शव सड़क किनारे जबकि ममता की लाश तालाब से बरामद की गई। लड़की के शव के पास से चप्पल व बेल्ट बरामद की गई है।

वहीं, घटना के संबंध में इंस्पेक्टर मनोज कुमार ने बताया कि दोनों सगे भाई-बहन की हत्या पत्थर से कुचल कर की गई है। रात में ही दोनों भाई बहन अपने पैतृक गांव कोटामाटी से लोहरदगा जाने के लिए निकले थे। इसके बाद से घर नहीं पहुंचे।

No ad for you

गुमला की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.