पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
No ad for you

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कंगना vs उद्धव:कंगना ने कहा- मुझे नमक हराम कहने वाले उद्धव शर्म करो; आप सीएम के लायक नहीं, नेपोटिज्म के खराब प्रोडक्ट हो

मुंबईएक महीने पहले
उद्धव ने कंगना का नाम लिए बिना कहा था कि जिन लोगों को अपने राज्य में ठीक से खाना नहीं मिलता, वे मुंबई आकर इस शहर को बदनाम करते हैं।
No ad for you

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और एक्ट्रेस कंगना रनोट के बीच जुबानी जंग जारी है। उद्धव ने रविवार को दशहरा रैली के संबोधन में कंगना का नाम लिए बिना कहा था कि आप यहां रोजगार के लिए आते हैं और मुंबई को बदनाम करते हैं। जिन लोगों को अपने राज्य में ठीक से खाना नहीं मिलता है, वे यहां आते हैं। इस पर कंगना ने सोमवार को पलटवार किया। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे शर्म करो, आप कुर्सी के लायक नहीं हैं।

'उद्धव ने मुझे गाली दी, सोनिया सेना ने भी ऐसा किया था'
कंगना ने ट्विटर पर 2 मिनट का वीडियो शेयर कर कहा- "उद्धव ठाकरे, तुमने कल अपने भाषण में मुझे गाली दी, नमक हराम कहा। इससे पहले भी सोनिया सेना के कई लोगों ने मुझे गंदी गालियां दी हैं, धमकाया है। मेरा जबड़ा तोड़ना या ओपनली मुझे मार देना या हरामखोर कहना, इस तरह की कई गालियां पहले ही मुझे सोनिया सेना ने दी हैं। लेकिन, जो भी नारी सशक्तिकरण के ठेकेदार हैं, उन्होंने कुछ भी नहीं कहा।

'आपने भारत की तुलना पाकिस्तान से की'
कंगना ने कहा- चीफ मिनिस्टर आप मुझसे बहुत नाराज हुए थे, जब मुंबई में मुझे धमकाने के बाद मैंने वहां की तुलना पीओके से की थी, क्योंकि वहां पर आजाद कश्मीर के नारे लगे थे। आपकी सोनिया सेना ने उसे डिफेंड किया था, इसलिए मैंने पीओके से तुलना की तो जो संविधान के बचाने वाले हैं वो उछल कर आए थे। कल आपने अपने भाषण में भारतवर्ष की तुलना पाकिस्तान से की, अब वो संविधान वाले नहीं आएंगे, क्योंकि उनके मुंह में कोई पैसा नहीं ठूंस रहा है।

'संविधान को बचाने वाले अब कुछ नहीं कहेंगे'
मैं कहना चाहती हूं कि जितने भी देशभक्त लोग हैं उनकी सहायता करने कोई नहीं आता। आप देशभक्ति के बारे में बात करते हैं, देश के लिए कुछ करते हैं तो आप कौनसा हम पर अहसान कर रहे हैं, आप खुद के लिए यह कर रहे हैं, देश के लिए कर रहे हैं। वो कहते हैं हमारे पास न पैसे हैं, न हमें ठूंसने आते हैं, न हम खुद लेते हैं। लेकिन, देश में विद्रोह के लिए आपके मुंह में पैसे ठूंसे जाते हैं। ये जो संविधान को बचाने वाले हैं अब कुछ नहीं कहेंगे, जब एक वर्किंग चीफ मिनिस्टर के एक लड़की को सरेआम गाली दी।

'आपकी बातों से पता चलता है कि महिला से कैसे बात करते हैं'
कंगना ने ट्वीट कर कहा कि राउत ने मुझे हरामखोर कहा, उद्धव मुझे नमक हराम कह रहे हैं। वे दावा कर रहे हैं कि मुंबई में मुझे शरण नहीं मिलती तो अपने राज्य में मुझे खाना भी नहीं मिलता। शर्म करो, मैं आपके बेटे की उम्र की हूं। आपकी बातों से पता चलता है कि एक सेल्फ मेड सिंगल वूमन से आप कैसे बोलते हैं, मुख्यमंत्री आप नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) के खराब प्रोडक्ट हैं।

'आपका गंदा भाषण आपकी अयोग्यता का भद्दा प्रदर्शन है'
कंगना ने लिखा कि जैसे हिमालय की खूबसूरती का ताल्लुक हर भारतीय से है, वैसे ही मुंबई में मिलने वाले मौके हम सभी के लिए हैं। दोनों ही मेरे घर हैं, उद्धव ठाकरे आप हमारे लोकतांत्रिक अधिकारों की छीनने की हिम्मत नहीं कर सकते और हमें बांट नहीं सकते। आपका गंदा भाषण आपकी अयोग्यता का भद्दा प्रदर्शन है।

'मुख्यमंत्री देश को बांट रहे'
कंगना ने एक दूसरे ट्वीट में कहा कि एक मुख्यमंत्री की हिम्मत देखिए, कि जिस देश ने उसे महाराष्ट्र का ठेकेदार बनाया, वह उसी देश को बांट रहे हैं। वे सिर्फ जनता के सेवक हैं, उनके पहले कोई और था, और वे जाएंगे तो कोई और आएगा। फिर वे ऐसा व्यवहार क्यों कर रहे हैं, जैसे महाराष्ट्र सिर्फ उन्हीं का है।

No ad for you

महाराष्ट्र की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.