Quiz banner
Loading advertisement...

निगम चुनाव से पहले दल बदल:हिंदू महासभा से पार्षद बने बाबूलाल चौरसिया ने निगम चुनाव से पहले थामा कांग्रेस का हाथ

ग्वालियर8 महीने पहले
भोपाल में कांग्रेस की सदस्यता लेते बाबूलाल चौरसिया पूर्व सीएम कमल नाथ के पास खड़े हुए
  • भोपाल में पूर्व सीएम कमल नाथ ने दिलाई कांग्रेस की सदस्यता
  • कांग्रेस में वापस लाने में विधायक प्रवीण पाठक का अहम योगदान
Loading advertisement...
दैनिक भास्कर पढ़ने के लिए…
ब्राउज़र में ही

पिछले चुनाव में हिंदू महासभा से पार्षद बनकर नगर निगम परिषद में पहुंचे बाबूलाल चौरसिया ने निगम चुनाव से पहले पलटी मार दी है। अपनी राजनीतिक पारी को आगे बढ़ाने के लिए उन्होंने बुधवार को कांग्रेस का हाथ थामा है। भोपाल में एक कार्यक्रम में कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने उन्हें कांग्रेस की सदस्यता दिलाई है। बाबूलाल पहले भी कांग्रेसी थे। बीते चुनाव में टिकट नहीं मिलने पर बगावत कर वह हिंदू महासभा से पार्षद का चुनाव लड़े और वार्ड 44 से जीत भी हासिल की थी।

राजनीतिक उठा पटक के साथ ही निगम चुनाव की आहट सी होने लगी है। अपने-अपने वार्ड में जाकर सामाजिक कार्यकर्ता व राजनीतिक दल के सदस्य लोगों का हाल चाल पूछने लगे हैं। इसी सिलसिल में बुधवार को ग्वालियर में कांग्रेस के लिए अच्छी खबर रही है। वार्ड-44 से हिंदू महासभा के टिकट पर पिछले चुनाव में पार्षद बने बाबूलाल चौरसिया ने कांग्रेस की सदस्यता ले ली है। यहां बाबूलाल के बारे में बता दें कि निगम चुनाव से ठीक पहले उनका पाला बदलकर कांग्रेस में जाने पर किसी को आश्चर्य नहीं हुआ है। काफी समय से उनकी चर्चा चल रही थी। क्योंकि इससे पहले भी वह कांग्रेस के ही सदस्य थे। पर पिछले नगर निगम चुनाव में वार्ड-44 से कांग्रेस की ओर से कांग्रेस नेता शम्मी शर्मा को टिकट दिया गया था। जिस पर बाबूलाल चौरसिया ने बगावत कर कांग्रेस छोड़ दी थी। उन्होंने हिंदू महासभा की सदस्यता लेकर चुनाव लड़ा और जीता था। इस चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के शम्मी शर्मा को हराया था।

कांग्रेस ही मेरी पार्टी है

बुधवार को भोपाल में एक कार्यक्रम पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के समझ बाबूलाल चौरसिया ने कांग्रेस की सदस्यता ली। इस दौरान वहां ग्वालियर दक्षिण के विधायक प्रवीण पाठक भी मौजूद रहे हैं। माना जा रहा है कि बाबूलाल की कांग्रेस में वापसी की राह विधायक प्रवीण पाठक ने ही आसान की है। दैनिक भास्कर से बात करते हुए बाबूलाल ने कहा कि कांग्रेस की उनकी पार्टी है। वह युवा वर्ग को कांग्रेस से जोड़ने के लिए पूरी मेहनत करेंगे।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...