पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
Loading advertisement...

जिद के आगे हार गई जिंदगी:बेटे के बर्थ-डे पर पार्टी करने का दबाव बना रही थी पत्नी, झगड़कर मायके गई, आधे घंटे बाद पति ने लगा ली फांसी

पटियालाएक वर्ष पहले
मृतक पति के साथ पत्नी
  • बर्थ-डे पर हर बेटे को पापा की जरूरत होती है, पार्टी की नहीं
Loading advertisement...
दैनिक भास्कर पढ़ने के लिए…
ब्राउज़र में ही

29 अक्टूबर काे बेटे का जन्मदिन बड़े स्तर पर मनाने के लिए पत्नी पति से जिद कर रही थी। इसके लिए पत्नी ने अपने मायके वालाें की मदद से पति पर दबाव डाला। इस बात से परेशान हाेकर 27 साल के युवक ने फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। घटना थाना पसियाणा के तहत आते गांव काेरजीवाला की है। जांच के बाद पुलिस ने युवक के पिता अमर सिंह के बयान पर आराेपी पत्नी ज्याेती, सास कमलेश रानी, साला गगनदीप सिंह निवासी लुधियाना के खिलाफ केस दर्ज किया।

पिता ने पुलिस काे बताया कि बेटे की शादी के बाद से आराेपी बहू उसे परेशान करती थी। उसके झगड़े से बेटा परेशान रहता था। कुछ दिन से बहू पाेते के जन्मदिन पर पार्टी करने की जिद कर रही थी। मामले की जांच कर रहे एएसआई बलजीत राम ने बताया कि मृतक के पिता के बयान पर आरोपी महिला व उसकी मां और भाई के खिलाफ केस दर्ज किया है।

पिता ने बयान में बताया कि बहू बेटे को परेशान करती थी। वह बेटे के जन्मदिन की पार्टी करने के लिए दबाव बना रही थी। वह इसके लिए झगड़ा कर रही थी। केस दर्ज कर लिया है। जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर काेर्ट में पेश करेंगे।

27 साल के बेटे को खोने की कहानी, पिता की जुबानी

बेटा इंटीरियर डिजाइनर था, बहू अक्सर झगड़ा करती थी, 18 को भी लड़ाई कर मायके चली गई

पिता अमर सिंह ने बताया कि 27 साल का हरविंदर इंटीरियर का काम करता था। जिसकी शादी 4 साल पहले ज्याेती से हुई थी। शादी के महज 6 महीने बाद ही वह पति से झगड़ा कर मायके चली गई थी। वह तीन साल मायके परिवार में रही। वहां उसके पास एक बेटे ने जन्म लिया। 15 काे गांव की पंचायत काे साथ ले वह उसे ससुराल लेकर आए थे। 29 अक्टूबर को पोते का जन्मदिन को लेकर बहू और बेटे में झगडा हुआ।

रविवार काे बहू की मां व भाई उनके घर आए और बहू काे साथ ले जाने लगे। जिन्हें राेकने की काेशिश की। उन्हाेंने एक न सुनी बहू काे बेटे ने जाने से राेका था और कहा कि अगर वह चली गई ताे वह मर जाएगा। शाम 4 बजे बहू मां व भाई के साथ मायके चली गई। उसके महज आधे घंटे बाद बेटे ने फंदा लगाकर सुसाइड कर लिया। जब तक कमरे का दरवाजा ताेड़़कर उसे निकाला तब तक उसकी माैत हाे चुकी थी।

शादी के 6 मीहने के बाद से होने लगी थी लड़ाई, 15 जनवरी काे कराया था पंचायत में राजीनामा

पिता ने बताया कि बहू बेटे से झगड़ा करके अपने बेटे को साथ लेकर मायके चली जाती थी। 15 जनवरी को पंचायती राजीनामा के बाद बहू को वह घर वापस लेकर आया था। उसके बाद आरोपी बहू फिर उसके बेटे के साथ झगड़ा करने लगी। 29 को उसके पोते का जन्मदिन है। उसे मनाने के लिए बहू रिश्तेदारों को बुलाने की बात करती थी। उसके बेटे ने पैसे कम होने की बात कहकर पार्टी करने से मना कर दिया। इसी बात से परेशान हाेकर दोनों में झगड़ा हुआ। बहू ने मां और भाई को घर बुला लिया। उन्होंने बेटे के साथ झगड़ा किया। बेटा बेइज्जती काे सहन नहीं कर सका।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...