Quiz banner

पतंजलि से जुड़े बिजनेसमैन को जान से मारने की धमकी:पाकिस्तान के नंबर से आया कॉल, कहा- अंजाम सही नहीं होगा

अलवर4 महीने पहले
Loading advertisement...
दैनिक भास्कर पढ़ने के लिए…
ब्राउज़र में ही

पतंजलि स्टोर के बिजनेसमैन को पाकिस्तान से आए एक नंबर से जान से मारने की धमकी मिल रही है। कॉल पर व्यापारी को मिलने के लिए कहा गया। जब उसने मना कर दिया तो धमकाया कि तुझे जान से मार देंगे। इसके बाद व्यापारी थाने पहुंचा। यहां भी बदमाश ने कॉल कर जान से मारने की धमकी दी। मामला अलवर शहर के शिवाजी पार्क थाना क्षेत्र का मामला है।

Loading advertisement...

शहर के हसन खां में रहने वाले बिजनेसमैन सीपी यादव (44) का एमआईए इंडस्ट्री एरिया में तेल व पशु आहार की फैक्ट्री है। इसके साथ पतंजलि के प्रोडक्ट भी बनाते हैं और शहर में स्कूल व कॉलेज है। सीपी यादव ने बताया कि उन्हें अगस्त महीने से जान से मारने की धमकी मिल रही थी। सबसे पहले 28 अगस्त को कॉल किया था। इसके बाद 1 व 4 सितंबर को कॉल कर धमकाया।

इससे पहले बदमाश लगातार मिलने की बात कहकर धमका रहे थे। 26 सितंबर की रात करीब 10:30 बजे बदमाशों ने कॉल किया। यह कॉल व्यापारी की पत्नी ने रिसीव किया। बदमाशों ने धमकाया कि 5 मिनट में मिल ले वरना अंजाम ठीक नहीं होगा। पत्नी को जब इसके बारे में पता चला तो बिजनेसमैन चंद्र प्रकाश यादव ने बताया कि बदमाश उसे कभी से परेशान कर रहे हैं। इस पर दोनों देर रात 11 बजे शिवाजी पार्क थाना पहुंचे और मामला दर्ज करवाया।

थाने में भी आया कॉल
थाने पहुंचने के बाद भी व्यापारी को धमकी भरा कॉल आया। पूछा कहां आया है- तो बताया कि थाने आया हूं शिकायत करने। इस पर बदमाशों ने थाने में भी धमकाया कि तू मान नहीं रहा है, तेरी थानेदारी निकाल देंगे। पुलिस को दी गई रिपोर्ट के अनुसार सीपी यादव के पास 9680568922, 3023141670, 6913926695 व 8017430713 सहित कई नंबराें से फोन आए। जब एक नंबर को व्यापारी ब्लॉक कर देता तो दूसरे से फोन आने लग जाते। दूसरा ब्लॉक या तो तीसरे नंबर से फोन आने शुरू हो जाते हैं।

एक खुलासे में पता चला सीपी यादव भी था रडार पर

अलवर शहर के राखी कारोबारी का 29 जुलाई को मर्डर कर दिया गया था। इस मर्डर केस में जब पुलिस ने खुलासा किया और आरोपियों से पूछताछ की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। आरोपियों ने बताया कि उनके रडार पर कारोबारी सीपी यादव भी थे। इधर, सीपी यादव को लगातार मिल रही धमकियों के बाद पुलिस भी अलर्ट हो गई है।

बाबा रामदेव इंडस्ट्री के मालिक, बाबा आए थे उद्घाटन पर
सीपी यादव शहर में 2015 तक स्कूल व कॉलेज चल रहा है। इसके बाद 2015 में एमआईए में पतंजलि का तेल व पशु आहार बनाने की पहली फैक्ट्री लगाई थी। 2017 में एमआईए में दूसरी फैक्ट्री के उद्घाटन पर खुद बाबा रामदेव आए थे। इंडस्ट्री का नाम भी बाबा रामदेव इंडस्ट्री है। मूलरुप से अलवर के गंडाला के रहने वाले हैं। अब कई सालों से परिवार के साथ अलवर में रहते हैं। फिलहाल हसन खां में माता-पिता,दो बच्चे व भाई के साथ रहते हैं। दोनों भाई सरकारी टीचर हैं। माता-पिता भी लेक्चरर से रिटायर हैं।

Loading advertisement...