पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
No ad for you

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पूजन कार्यक्रम:क्षत्रिय का कर्तव्य लोगों की रक्षा करना एवं जनहित के लिए लड़ना है: चैतन्यराज सिंह

जैसलमेरएक महीने पहले
  • जैसलमेर के जवाहर राजपूत छात्रावास में शस्त्र पूजन कार्यक्रम संपन्न
No ad for you

क्षत्रिय सदैव से शक्ति उपासक रहा हैं। आज से ही नहीं जब से सृष्टि की रचना हुई है। क्षत्रिय का कर्तव्य आमजन की रक्षा करना एवं आमजन के हितों के लिए लड़ना रहा है। यह उद्गार राजपूत सेवा समिति के तत्वावधान में जवाहर राजपूत छात्रावास में आयोजित शस्त्र पूजन कार्यक्रम के दौरान पूर्व युवराज चैतन्यराजसिंह ने व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि जब हमारे पास अधिकार थे हमने स्वयं के लिए नहीं बल्कि प्रजा के हितों की रक्षा की है। उन्होंने कहा कि शस्त्र का उपयोग कर गीता ज्ञान द्वारा हम अपने कर्तव्य का निर्वहन करें। कार्यक्रम के प्रारंभ में दीप प्रज्ज्वलित कर शस्त्र व शास्त्रों की पूजा की गई। कार्यकारी अध्यक्ष दुष्यंतसिंह ने वर्तमान समय की परिस्थितियों पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि किस तरह से हम अपने उसी गौरव की ओर लौट पड़े, जिस गौरव के लिए हमारे पूर्वज अपने कर्तव्य का पालन करते थे। आज हमें उसकी आवश्यकता है तभी आमजन हम पर विश्वास करेगा।

समिति सचिव सवाईसिंह देवड़ा ने कार्यक्रम की भूमिका रखते हुए कहा कि जिस दिन से क्षत्रिय ने शास्त्र को छोड़ा उसी दिन से वह पथभ्रष्ट हो गया। हमने अपने कर्तव्य को छोड़ दिया। कर्तव्य को भूल कर हमने हमारी संस्कृति और सभ्यता को छोड़ दिया। तभी से पतन का मार्ग प्रारंभ हुआ है, अभी भी वक्त है कुछ चिंतन करें। कार्यक्रम के प्रारंभ में भोजराजसिंह तेजमालता द्वारा मंगलाचरण करवाया। कार्यक्रम में युवा नेता नरेंद्रसिंह

बेरसियाला, पदमसिंह पूनमनगर व हिन्दूसिंह म्याजलार ने संबोधित किया। कार्यक्रम में जितेंद्रसिंह पूनमनगर, सुखपालसिंह चेलक, महिपालसिंह डांगरी, मनोहरसिंह कुंडा, प्रयागसिंह भैंसडा, लालूसिंह सोढा, एवनसिंह, दिनेशपालसिंह मौजूद रहे।

No ad for you

जैसलमेर की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.