पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राष्ट्रीय बालिका दिवस:बोर्ड परीक्षाओं की 10-10 टॉपर्स बालिकाओं का सम्मान

करौलीएक महीने पहले
  • राष्ट्रीय बालिका दिवस पर कलेक्ट्रेट सभागार में सम्मान समारोह, प्रसूताओं को बेबी किट व मिठाई पैकेट्स देकर बधाई दी
Loading advertisement...
Open Dainik Bhaskar in...
Browser

उच्च शिक्षा के दम पर हर क्षेत्र में कैरियर बनाकर बालिकाएं परिवार व समाज ही नहीं,बल्कि देश व प्रदेश का गौरव बढ़ा रही हैं। देश में व्याप्त लैंगिक असमानता को मिटाने और बेटियों के अधिकारों का संरक्षण करने की जिम्मेदारी समूचे समाज की होती है। बेटियों को हौंसले की उडान के साथ ही आगे बढाने और समाज में मान-सम्मान के साथ की सकारात्मक सोच पैदा करने के लिए लाडो अभियान की शुरुआत की गई है। ताकि, बेटियां भी विभिन्न क्षेत्रों में अपने हुनर के दम पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए अपना नाम रोशन करें और जिले को प्रांतीय व राष्ट्रीय स्तर पर नई पहचान दे सकें। यह बात कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने रविवार को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की मुहिम के तहत राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर रविवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला स्तरीय सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि बतौर संबोधन में कही। महिला अधिकारिता व आई सीडीएस की आरे से आयोजित कार्यक्रम में बोर्ड परीक्षा 10 व 12 वीं की दस-दस टॉपर्स बालिकाओं को पांच हजार नकद, शील्ड व प्रशस्ति-पत्र प्रदान कर सम्मानित किया।महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक प्रभातीलाल जाट ने कहा कि राष्ट्रीय बालिका दिवस पर जिला मुख्यालय के अलावा ब्लॉक स्तर पर भी कई कार्यक्रम हुए। राजकीय जिला चिकित्सालय में नवजात कन्याएं को जन्म देने वाली प्रसूताओं को बेबी किट, मिठाई के पैकेट्स व प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया और बच्चियों के नाम पर पौधरोपण कार्यक्रम भी हुआ। कार्यक्रम के दौरान प्रतिभावान छात्राओं से कलेक्टर ने रूबरू होकर भविष्य में कैरियर बनाने और आगामी तैयारियां की जानकारी ली साथ ही उनसे अपने प्रशासनिक सेवा के अनुभव साझा किए। आई सीडीएस डीडी प्रभातीलाल जाट ने कहा कि बज्जा हो तो कोई भी लक्ष्य कठिन नहीं है, लगातार मेहनत व योजनाबद्ध तैयारी के दम पर कोई भी टारगेट हां सिल किया जा सकता है। समारोह में लाडली अभियान के एजेंडे पर बिंदुवार फोकस करते हुए लाडो कार्यक्रम को सफल बनाने का आह्वान भी किया।मेधावियों को मिला सम्मान तो चेहरे पर छाई मुस्कानराष्ट्रीय बालिका दिवस पर प्रतिभावान बालिकाओं को कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग के हाथों सम्मान मिला तो उनके चेहरों पर मुस्कान नजर आई। कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में बोर्ड कक्षा 10 व 12 वीं में सर्वोच्च प्राप्तांक वाली 10-10 बालिकाओं को पुरस्कृत किया गया। महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक प्रभातीलाल जाट ने बताया कि जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने सभागार में मां सरस्वती के चित्रपट पर दीप प्रज्जवलित व माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरूआत की। खास तौर पर फोटोग्राफी में उत्कृष्ट दिव्यांग बालिका नि री मीना को भी जिला कलेक्टर ने सम्मानित किया।नवजात बालिकाओं को बेबी किटसहायक निदेशक प्रभातीलाल जाट ने बताया कि जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग ने 24 जनवरी,राष्ट्रीय बालिका दिवस पर नवीन चिकित्सालय में 15 नवजात बालिकाओं के माता-पिता को बेबी किट, बधाई संदेश पत्र व मिठाई के पैकेट्स वितरित किए और बधाई दी। उन्होंने प्रसूताओं के अटेंडर परिवारजनों से कहा कि घर-परिवार में बालक-बालिकाओं में किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं करना और बालिकाओं को उचित परवरिश व माहौल प्रदान कर उच्च शिक्षा दिलाकर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की थीम को अपनाने के लिए प्रेरित भी किया। नवजात बालिकाओं के नाम पर जिला कलेक्टर सिद्धार्थ सिहाग, नगर परिषद सभापति रसी दा खातून व प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ.दिनेश गुप्ता ने पौधरोपण भी किया। ताकि, आमजन को पर्यावरण व प्राकृतिक संरक्षण का संदेश भी दिया जा सके।वार्डन रीना मीना सम्मानित नारौली (सपोटरा)|राष्ट्रीय बालिका दिवस पर रविवार को कलेक्ट्रेट करौली के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय नारौली डांग की संस्था प्रधान व वार्डन रीना मीना को उत्कृष्ट कार्य करने पर सम्मानित किया गया है।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...