Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

राजनीति/ देशद्रोही और नक्सली मामले में मुख्यमंत्री के खिलाफ नोटिस तैयार

Dainik Bhaskar | Sep 11, 2018, 05:17 PM IST
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 05:17 PM IST

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा है कि उनपर आरोप लगाने वाले मामला कोर्ट में जाने पर उनसे माफी मांगते फिरते हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मुझे देशद्रोही कहा है, उन्होंने मेरे संबंध नक्सलियों से होने के बात कही है। शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ मानहानि का नोटिस तैयार हो गया है और जल्द ही उन्हें भेजा जाएगा।


दिग्विजय सिंह मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि देश में नोटबंदी के बाद अर्थव्यवस्था प्रभावित हुई है। नोटबंदी में घोटाला हुआ है। नरेंद्र मोदी, अमित शाह के प्रभाव वाले सहकारी बैंकों में नोट करोड़ों रुपए बदले गए। ये फैसला बिना तैयारी के लिया गया। बैंकों के दलालों ने नोटबंदी में जमकर कमाया है। मोदीजी ने नोटबंदी के जरिए अपने मित्रों के लिए कालेधन को पूरी तरह से फायदा पहुंचाया है। उन्होंने ये भी कहा कि एनडीए सरकार बिना सोचे समझे चल रही है।

हमने बनाई गौशालाएं

दिग्विजय सिंह ने कहा कि भाजपा की राह कभी धार्मिक नहीं रही है। कांग्रेस की सरकार के समय हमने गौ सेवा आयोग बनाया था और गौशालाएं खोली थी। इनके गौ भक्त केवल चंदा वसूली में लगे हुए हैं। कांग्रेस राम वन पथ बनाएगी।

मुख्यमंत्री पर लगाए आरोप


प्रदेश सरकार के बारे में दिग्विजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह बड़े पैमाने पर घोषणाएं कर रहे हैं। जिससे उनकी घबराहट साफ दिखाई देती है। पहले मुझे देशद्रोही बताया बिना प्रमाण के और अब मेरे संबंध नक्सलियों से बताए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं शिवराज को चुनौती देता हूं कि मेरे ऊपर एक भी भ्रष्टाचार का आरोप लगा दें। प्रमाणित करने की बात तो दूर मुझ पर पहले जो आरोप लगाए थे। उन आरोपो पर मैंने मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया था। कोर्ट में मामला जाने के बाद आरोप लगाने वाले लोगों ने मुझसे माफी मांगी। शिवराज सिंह मुझ पर घोटालों का आरोप लगा रहा हैं, शिवराज के घोटालों पर तो पुराण लिखी जा सकती है।