विधानसभा चुनाव / भाजपा की सीटें आधी हुई, रोका सत्ता में आने का रास्ता

  • मालवा-निमाड़ : धार में 7 में 6 तो खरगोन में 6 में से 5 सीट कांग्रेस ने जीती

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2018, 07:32 AM IST

इंदौर .मालवा-निमाड़ की 66 सीटों में से पिछली बार भाजपा के पास 56 सीटें थीं, इस बार वह घटकर आधी यानी 28 रह गई। इस बड़े झटके से भाजपा सत्ता से बाहर होने की स्थिति में आ गई है।

धार में 7 में से 6 और खरगोन में 6 में से 5 सीटें जीतकर कांग्रेस ने भाजपा को चौंकाया। इंदौर, उज्जैन, सहित सभी जिलों में कांग्रेस की स्थिति सुधरी। किसानों का गुस्सा भाजपा को लेकर गुस्सा और कांग्रेस का कर्ज माफी के वादे से ग्रामीण बेल्ट में कांग्रेस को अच्छा समर्थन मिला। सपाक्स के कारण भाजपा के वोट कटे और जयस के कांग्रेस के साथ जाने से उसे इसका फायदा मिला। प्रत्याशियों के चयन में गलती, बागी उम्मीदवार भी भाजपा की कई सीटों पर हार की वजह बने।

खंडवा समेत निमाड़ के चार आदिवासी जिलों खरगोन, बड़वानी, धार, झाबुआ में कांग्रेस ने अच्छा प्रदर्शन किया। भाजपा सरकार के दो मंत्रियों को शिकस्त मिली।

बुरहानपुर: मौजूदा विधायक अर्चना चिटनीस का मुकाबला कांग्रेस रविंद्र महाजन से था, लेकिन जीत कांग्रेस के बागी सुरेंद्र सिंह की हुई।

कसरावद: सचिन यादव यहां से दूसरी बार मैदान में थे। मुकाबला भाजपा के आत्मराम पटेल से था। कड़े संघर्ष के बाद वे सीट बचाने में सफल रहे।

महेश्वर: त्रिकोणीय मुकाबले में कांग्रेस की विजयलक्ष्मी साधौ ने भाजपा के बागी प्रत्याशी राजकुमार मेव को हराया। भाजपा के यहां तीसरे स्थान पर रही।

खरगोन: मौजूदा विधायक बालकृष्ण पाटीदार कांग्रेस के रवि जोशी से हारे।

सेंधवा: ग्यारसीलाल रावत ने मंत्री अंतरसिंह आर्य को मात दी।

Share
Next Story

आचार संहिता / कार में मिले 7 लाख रुपए प्रशासन ने जब्त किए, व्यापारी ने कहा- पेट्रोल पंप के रुपए हैं

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News