मध्यप्रदेश / मेजर का आरोप- पुलिस अधिकारी की अफसर पत्नी ने कम उम्र बता टिंडर पर दोस्ती, फिर शादी की, गहने-फ्लैट हथियाए

  • देर रात महिला ने मेजर के खिलाफ दर्ज करवाया ज्यादती का प्रकरण

Dainik Bhaskar

Jan 20, 2019, 02:49 AM IST

इंदौर . एक सरकारी अधिकारी महिला (वरिष्ठ पुलिस अफसर की पत्नी) द्वारा खुद को अविवाहिता बताकर आर्मी के मेजर से शादी करने का मामला सामने आया है। इंफाल में पदस्थ मेजर अंकुर सिंह का आरोप है कि दो बच्चियों की मां इस महिला ने अप्रैल 2017 में टिंडर के जरिये उससे दोस्ती की थी। जुलाई 2017 में दोनों ने शादी भी कर ली। आर्मी में शादी रजिस्टर्ड करवाने के लिए मेजर ने महिला से उसके दस्तावेज मांगे, जो जांच में फर्जी निकले। तब उन्हें धोखाधड़ी का पता चला। शनिवार को मेजर ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

पुलिस को की शिकायत में मेजर अंकुर ने बताया, ‘टिंडर के जरिए फोन नंबर एक-दूसरे को दिए गए। फोन पर उसने कहा कि उसकी शादी नहीं हुई है। उस समय मैं इंफाल में पदस्थ था। फिर उसने मुझसे मिलने की इच्छा जताई तो मैं उससे मिलने के लिए 3 मई 2017 को इंदौर आया था। उसके बाद हम दोनों भोपाल घुमने गए और तीन दिन वहां होटल में रुके। मेजर ने कहा कि इंदौर में शादी के बाद मुझे शादी आर्मी में रजिस्टर्ड करवाना थी तो मैंने महिला से आधार लाइसेंस, पासपोर्ट आदि मांगे। उसने फर्जी भेजे। इसके बाद पता किया तो सारा खुलासा हुआ।

बेटियों को भतीजी बताकर साथ घूमने ले गई थी :मेजर ने बताया कि दोस्ती होने के बाद महिला ने बीमारी के कारण अपना वजन ज्यादा होना बताया। कहा स्किन डिजीज के कारण उसकी उम्र ज्यादा दिखती है, लेकिन है 24 साल। 2 जुलाई 2017 को अन्नपूर्णा नगर में आर्य समाज में परिजन के सामने महिला से शादी कर ली।

माता-पिता ने उसे करीब सवा लाख के गहने दिए। हनीमून के बाद मैं उसे इंदौर छोड़ नौकरी पर इंफाल आ गया। आर्मी वॉर कॉलेज महू में दो माह का कोर्स करने आया और उमरिया में किराए का घर लिया। दो महीने हम यहां साथ रहे। 6 अप्रैल 2018 को निगम में शादी रजिस्टर्ड करवाई। हम कन्नूर जा रहे थे तो वह अपनी बेटियों को भी साथ ले आई। महिला दोनों बच्चियों को ताऊजी की बेटियां बता रही थी।

गृह प्रवेश में तुम आए तो मैं पूजा में नहीं बैठूंगी :कुछ दिन बाद महिला ने कहा कि अपनी शादी के बारे में मेरे घरवालों को पता चल गया है, वो मुझे घर से निकाल रहे हैं। तुम मुझे घर दिलवा दो तो मैंने बेटमा में 65 लाख रुपए का मकान दिलवा दिया। उसने मुझे झांसा देकर मकान अपने नाम पर करवा लिया।

मुझे कहा कि आपका तो यहां-वहां ट्रांसफर होता रहता है। मैं तो इंदौर में ही रहूंगी, कुछ भी काम होगा तो मैं हस्ताक्षर कर दिया करूंगी। मैंने भरोसा करके मकान उसके नाम पर कर दिया। मकान के गृह प्रवेश में इसने मुझे नहीं आने दिया। कहने लगी कि तुम आओगे तो तुम ही पूजा करना। मैं शामिल नहीं होऊंगी।

देर रात तेजाजी नगर थाने में महिला ने भी मेजर के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कराया। पुलिस एसआईटी गठित कर जांच कर रही है। वहीं, पुलिस के मुताबिक मेजर द्वारा फर्जी दस्तावेज पेश करने के बाद महिला की गिरफ्तारी की जाएगी।

Share
Next Story

आचार संहिता / कार में मिले 7 लाख रुपए प्रशासन ने जब्त किए, व्यापारी ने कहा- पेट्रोल पंप के रुपए हैं

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News