Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

मध्यप्रदेश/ हार्दिक पटेल का भाजपा पर हमला - देश में सबसे ऊंची प्रतिमा बनाने की होड़, किसानों की फिक्र नहीं

Dainik Bhaskar | Nov 05, 2018, 11:50 AM IST
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

  • हार्दिक पटेल महेश्वर, उमियाधाम करोंदिया होते हुएओंकारेश्वर से खरगोन पहुंचे। यहांसत्याग्रह जनसभा को संबोधित किया

Dainik Bhaskar

Nov 05, 2018, 11:50 AM IST

खरगोन. किसान क्रांति सेना राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने खरगोन में कहा- मैं भाजपा-कांग्रेस व पाटीदारों की नहीं किसानों की बात करने आया हूं। हार्दिक ने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा गुजरात में बनाई वल्लभभाई पटेल की स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर कहा- मोदीजी ने 182 मीटर की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा बनाकर तीन हजार करोड़ रुपए खर्च कर दिए। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ घूमने आए थे, वे कह रहे हैं अयोध्या में ऐसी ही श्रीरामजी की प्रतिमा वे सरयू तट पर बनाएंगे। देश में ऊंची प्रतिमा बनाने की होड़ है। किसानों की किसी को फिक्र नहीं।

ये भी पढ़ें

कांग्रेस नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्‌डा और भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी में दूर की राम-राम


हार्दिक ने कहा - पटेल की प्रतिमा के लिए आदिवासियों की एक हजार हेक्टेयर से ज्यादा जमीन ले ली। उन्हें मुआवजा तक नहीं दिया। आज पटेल होते तो सबसे ज्यादा दु:खी होते। मप्र में भावांतर योजना में किसानों को लागत मूल्य से लाभ का भाव नहीं मिल रहा है। उनसे लूट-खसोट हो रही है।

हार्दिक पटेल महेश्वर, उमियाधाम करोंदिया में सभा लेकर ओंकारेश्वर से खरगोन पहुंचे। उन्होंने पीपरी गांव में किसान सत्याग्रह जनसभा भी की।पटेल ने राम मंदिर पर कहा- भाजपा को लगता है फिलहाल मंदिर बन पाना संभव नहीं। चुनावी समय में इसका फायदा लेने के लिए प्राइवेट बिल लाया जा रहा है।

राम मंदिर की 1999 से राजनीति कर रहे नेता लोगों को गुमराह कर रहे हैं। सीबीआई के मुद्दे को दबाने के लिए वे ऐसा करने जा रहे हैं। ऐसी भी कोई बात नहीं है कि चुनाव तक कोई परिणाम आ ही जाएगा।


हार्दिक बोले : मैं भाजपा-कांग्रेस व पाटीदारों की नहीं किसानों की बात करने आया हूं
जिले में कसरावद, महेश्वर व खरगोन क्षेत्र पाटीदार समाज की खासी आबादी है। जानकारों के मुताबिक सवा लाख से ज्यादा मतदाता तीन विधानसभा में वोटर हैं। खरगोन क्षेत्र में 40 हजार व कसरावद व महेश्वर में 35-35 हजार मतदाता हैं। हार्दिक पटेल इसी समाज से आते हैं। इसके अलावा जिले में प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री बालकृष्ण पाटीदार के क्षेत्र में उनका दौरा किसानों के माध्यम से सत्ता के खिलाफ अभियान माना जा रहा है। हालांकि हार्दिक पटेल का कहना है वे भाजपा-कांग्रेस व पाटीदारों की नहीं, किसानों की बात करने आया हूं।