Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

कुंदन कुटीर मामला/ बालिका गृह के खातों में हुए ट्रांजेक्शन का ब्यौरा देने के लिए पुलिस ने बैंकों को लिखे पत्र

Dainik Bhaskar | Feb 19, 2019, 10:49 AM IST
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

  • अब तक 250 लड़कियों के हो चुके बयान, मप्र की 40 लड़कियों से पूछताछ होना बाकी

Dainik Bhaskar

Feb 19, 2019, 10:49 AM IST

रतलाम/जावरा. जावरा के कुंदन कुटीर बालिका गृह में लड़कियों के साथ हुए शोषण मामले की जांच के साथ ही पुलिस संस्था की आर्थिक अनियमितताओं की जांच भी कर रही है। इसके लिए बालिका गृह व इसका संचालन करने वाली संस्था कुंदन वेलफेयर ऑर्गनाइजेशन के कार्यालय से जब्त दस्तावेजों की जांच की जा रही है। पुलिस ने प्रमुख राष्ट्रीयकृत बैंकों को पत्र लिखकर संस्था से जुड़े बैंक खातों की जानकारी और इनमें हुए ट्रांजेक्शन की का ब्योरा भी मांगा है। जानकारी मिलने इसके बाद अनियमितता संबंधी जांच आगे बढ़ेगी। मामले में पीड़िता का वीडियो वायरल करने के मामले में आरोपी नपाध्यक्ष यूसुफ कड़पा की पत्नी नूरजहां बी ने रतलाम में जारी एक बयान में पति को राजनीतिक षड्यंत्र में फंसाने का आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें

कुंदन कुटीर बालिका गृह मामले की जांच अब एसआईटी करेगी, 10 दिन में रिपोर्ट देने के आदेश

बालिका गृह में शोषण मामले की जांच का दायरा बढ़ता ही जा रहा है। जावरा के सीएसपी अगम जैन ने बताया शोषण मामले में भी बची हुई लड़कियों के बयान के लिए टीमें बाहर गई हुई हैं। अब तक करीब 250 लड़कियों के बयान हो चुके हैं। मप्र की ही लगभग 40 लड़कियां बाकी हैं। पहले इनके कथन ले रहे हैं। इसके बाद पश्चिम बंगाल और ओडिशा में टीम भेजेंगे। हफ्तेभर में चालान पेश करने की तैयारी है।


आरोपी कड़पा के बचाव में आईं पत्नी नूरजहां, बोलीं- शक्तिशरण ने अपना बचाव करने के लिए मेरे पति को फंसाने का रचा षड्यंत्र : सोमवार को बालिका गृह कांड में वीडियो वायरल होने के मामले में फरार आरोपी कड़पा की पत्नी नूरजहां पति के बचाव में खुल कर आ गईं। उन्होंने एक बयान जारी किया। इसमें बताया नगर पालिका अध्यक्ष रहे पति यूसुफ को विधानसभा चुनाव में 65 हजार वोट मिले थे। लोकसभा चुनाव के पहले छवि धूमिल करने के लिए राजनीतिक षड़यंत्र के तहत फंसाया है। जावरा के बालिका गृह कांड में कुंदन वेलफेयर सोसायटी के अध्यक्ष और सचिव को पुलिस ने गिरफ्तार किया है परंतु उपाध्यक्ष व सदस्य तथा उनकी पत्नी पर कोई कार्रवाई नहीं की।

बालिका गृह की लड़कियों ने फार्म हाउस का उल्लेख किया है इसकी भी जांच की जाना चाहिए। नूरजहां ने बताया कुंदन कुटीर वेलफेयर ऑर्गनाइजेशन के उपाध्यक्ष शक्तिशरण सिंह ने अपने बचाव के लिए मेरे पति को फंसाने के लिए षड़यंत्र रचा। वीडियो में बयान देने वाली लड़की ने दो साल से अलग-अलग स्थानों पर दर्ज बयान में कुंदन कुटीर बालिका गृह की गंदी हरकत बयान की बावजूद उसी लड़की पर दबाव बनाकर मेरे पति के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया।


राजस्थान और गुजरात में दी दबिश, नहीं मिला आरोपी कड़पा : एसपी गौरव तिवारी ने बताया फरार आरोपी यूसुफ कड़पा व दिनेश चौहान की तलाश की जा रही है। यूसुफ की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम राजस्थान और गुजरात गई थी। सोमवार को जावरा में भी दो स्थानों पर दबिश दी परंतु सफलता नहीं मिली।


प्रभारी कार्यक्रम अधिकारी को बाल गृह की रिपोर्ट दी : जावरा के बालिका गृह में हुई घटना के बाद शहर के मिशन कंपाउंड स्थित बाल गृह के निरीक्षण की रिपोर्ट दल ने महिला एवं बाल विकास विभाग की प्रभारी कार्यक्रम अधिकारी लक्ष्मी गामड़ को दी है। निरीक्षण के लिए कलेक्टर रुचिका चौहान ने विशेष दल का गठन किया था। दल में चाइल्ड लाइन जिला समन्वयक प्रेम चौधरी, महिला एवं बाल विकास विभाग से राकेश तिवारी, सुपरवाइजर ऊषा लिंबोदिया शामिल थे। दल ने बाल गृह में सभी बच्चों से बात कर काउंसलिंग की तो वहीं बाल गृह में होने वाली गतिविधियों पर नजर रखी। इसे लेकर सभी ने चुप्पी साध रखी है।