Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

भारत में कर्ज सुविधा मुहैया कराने के लिए 4 बैंकों से हाथ मिलाएगा गूगल, पेटीएम को चुनौती देने की तैयारी

DainikBhaskar.com | Aug 29, 2018, 03:01 PM IST

2023 तक भारत के जरिए दक्षिण एशिया के 1 ट्रिलियन डॉलर के डिजिटल पेमेंट मार्केट पर पकड़ बनाना चाहता है गूगल

-- पूरी ख़बर पढ़ें --

गूगल ने मंगलवार को तेज ऐप को गूगल पे ऐप के तौर पर रीलॉन्च किया एक साल पहले लॉन्च हुई इस ऐप के करीब 2.2 करोड़ मासिक यूजर

नई दिल्ली. इंटरनेट कंपनी गूगल जल्द ही भारत में बड़े स्तर में लोगों को लोन की सुविधा मुहैया कराएगी। इसके लिए कंपनी ने चार भारतीय बैंकों के साथ साझेदारी की बात कही है। इनमें एचडीएफसी, आईसीआईसीआई, फेडरल बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक शामिल हैं। नई दिल्ली में एक इवेंट के दौरान गूगल के पेमेंट सर्विस के वाइस प्रेसिडेंट ने कहा कि इसके जरिए गूगल जल्द से जल्द बड़े स्तर पर करोड़ो भारतीयों तक पहुंच बनाना चाहता है।

गूगल का नया कदम पेटीएम जैसी उभरती भारतीय कंपनियों के लिए चुनौती हो सकता है। हाल ही में पेटीएम में जापान के सॉफ्टबैंक, चीन की अलीबाबा और वॉरेन बफे की हैथवे ने निवेश किया है। पेटीएम अपने पेमेंट बैंक सेवा के जरिए देश के दूरदराज के इलाकों में भी इंटरनेट बैंकिंग सुविधा पहुंचाने की कोशिश कर रहा है। आने वाले समय में पेटीएम ने भारत में बीमा और म्यूचुअल फंड लॉन्च करने की योजना भी बनाई है। लेकिन गूगल के लोन मुहैया कराने के प्लान से उसके लिए परेशानी खड़ी हो सकती है।

दक्षिण एशिया के 70 लाख करोड़ के मार्केट पर नजर:गूगल ने पिछले साल ही अपनी पेमेंट ऐप ‘तेज’ को सरकार की यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) सेवा के साथ लॉन्च किया था। इसके जरिए गूगल ने दक्षिण एशिया की एक बड़ी डिजिटल कम्युनिटी पर असर डालने की कोशिश की। भारत में तेज के करीब 2.2 करोड़ मासिक यूजर्स हैं। क्रेडिट सुइस नाम की एक फर्म के मुताबिक, 2023 तक दक्षिण एशिया में डिजिटल पेमेंट का दायरा पांच गुना बढ़कर 1 ट्रिलियन डॉलर्स तक पहुंच जाएगा। ऐसे में गूगल का यह कदम उसके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है।