Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

रिश्वतखोरी/ अपने ही दफ्तर में सीबीआई का छापा, एजेंसी के नंबर 2 अफसर अस्थाना की टीम का डीएसपी गिरफ्तार

राकेश अस्थाना।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीबीआई चीफ आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर को तलब किया
  • अस्थाना पर आरोप- 50 लाख रुपए के ट्रांजैक्शन की जांच कमजोर करने के लिए 5 करोड़ मांगे
  • सीबीआई ने अपने स्पेशल डायरेक्टर अस्थाना के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी
  • अस्थाना ने सीबीआई चीफ पर भी लगाए रिश्वत लेने के आरोप
  • डीएसपी पर आलोक वर्मा को फंसाने के लिए फर्जी बयान दर्ज करने का आरोप
  • गिरफ्तारी से बचने के लिए अस्थाना ने दिल्ली हाईकोर्ट में लगाई याचिका

Dainik Bhaskar | Oct 23, 2018, 08:10 AM IST

नई दिल्ली. केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने सोमवार को दो करोड़ रुपए की रिश्वतखोरी के आरोप में अपने डीएसपी देवेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया। इस दौरान सीबीआई टीम ने अपने मुख्यालय में डीएसपी के ऑफिस की छानबीन की। इसी मामले में एजेंसी में नंबर दो पोजिशन पर बैठे स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के खिलाफ भी एक दिन पहले ही एफआईआर दर्ज की गई थी। हालांकि, अस्थाना सीबीआई चीफ आलोक वर्मा पर लालू यादव से जुड़े मामले में दखल का आरोप लगा चुके हैं। एजेंसी के दो टॉप अफसरों की यह लड़ाई पीएमओ तक पहुंच चुकी है। बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दोनों अफसरों को तलब किया है।

 

आरोप है कि आलोक वर्मा को फंसाने के लिए डीएसपी ने हैदराबाद के कारोबारी सतीश बाबू सना का फर्जी बयान दर्ज किया था। सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तारी से बचने के लिए अस्थाना ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। 24 अगस्त को अस्थाना ने सीवीसी को पत्र लिखकर डायरेक्टर पर सना से दो करोड़ रुपए लेने का आरोप लगाया था।

बिजनेसमैन के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच कर रही एजेंसी

  1. 1984 आईपीएस बैच के गुजरात कैडर के अफसर अस्थाना मीट कारोबारी मोइन कुरैशी से जुड़े मामले की जांच कर रहे थे। इस दौरान हैदराबाद का सतीश बाबू सना भी घेरे में आया। एजेंसी 50 लाख के ट्रांजैक्शन के मामले में उसके खिलाफ जांच कर रही थी। कई बार पूछताछ भी की गई।

  2. सना ने सीबीआई चीफ को भेजी शिकायत में कहा कि अस्थाना ने इस मामले में क्लीन चिट देने के लिए 5 करोड़ मांगे थे। इनमें 3 करोड़ एडवांस और 2 करोड़ बाद में देने थे। 

  3. बिचौलिए ने कहा- अस्थाना को 2 करोड़ दिए

    सीबीआई ने पिछले हफ्ते एक बिचौलिए मनोज कुमार को गिरफ्तार किया था। मनोज कुमार ने मजिस्ट्रेट के सामने बयान दिया कि अस्थाना को 2 करोड़ रुपए की घूस दी थी।

  4. मनोज ने कहा कि उसने यह घूस कुरैशी की तरफ से दी थी। कुरैशी को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग को आरोपों में पिछले साल अगस्त में गिरफ्तार किया था। सीबीआई भी उसके खिलाफ जांच कर रही है।

  5. अस्थाना ने कैबिनेट सेक्रेटरी को चिट्ठी लिखी थी, सीबीआई चीफ पर लगाए थे आरोप

    अस्थाना ने आलोक वर्मा पर लालू यादव और उनके परिवार के खिलाफ चल रहे रेलवे कैटरिंग भ्रष्टाचार मामले में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया था।

  6. सूत्रों का कहना है कि अस्थाना ने कैबिनेट सेक्रेटरी को भी चिट्ठी लिखी थी। इसमें उन्होंने कहा था कि सीबीआई डायरेक्टर ने सना को क्लीन चिट देने के लिए 2 करोड़ की रिश्वत ली थी।

  7. राहुल ने कहा- सीबीआई बदला लेने का हथियार बनी

    एजेंसी के दोनों अफसरों की लड़ाई को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर तंज कसा। उन्होंने ट्वीट किया- नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जांच एजेंसी राजनीति में बदले की कार्रवाई का हथियार बन चुकी है। यह संस्था आज खुद से लड़ाई लड़ रही है।

सीबीआई ने केस दर्ज किया।
Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें