गुजरात / हार्दिक पटेल को मंच पर चढ़कर अनजान व्यक्ति ने थप्पड़ मारा

  • गुजरात के सुरेंद्रनगर में जनसभा को संबोधित कर रहे थे हार्दिक पटेल
  • थप्पड़ मारने वाले को पुलिस ने भीड़ से बचाकर हिरासत में ले लिया

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2019, 11:35 AM IST

सुरेंद्रनगर. कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल शुक्रवार को गुजरात के सुरेंद्रनगर में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान एक व्यक्ति ने मंच पर आकरहार्दिक को थप्पड़ मार दिया। हार्दिक के समर्थकों ने आरोपी को पकड़कर पीट दिया। पुलिस ने बीच-बचाव कर युवक को भीड़ से बचाया और हिरासतमें ले लिया। थप्पड़ मारने वाला व्यक्ति महेसाणा जिले का रहने वाला तरुण गज्जर है। उसने कहा कि पाटीदार आंदोलन के वक्त मेरी पत्नी गर्भवती थी। उसका अस्पताल में इलाज चल रहा था। उस दौरान मुझे कई परेशानियों का सामना करना पड़ा। तभी मैंने तय कर लिया था कि इस आदमी को मारूंगा। इस आदमी को किसी भी तरह सबक सिखाऊंगा।

तरुण ने कहा- अहमदाबाद में हार्दिक की रैली के दौरान मैं अपने बच्चे के लिए दवाएं लेने गया था। इस दौरान सबकुछ बंद था। वह सड़कें बंद कर देता है, वह जब चाहता है गुजरात बंद कर देता है। वह कौन है? वह गुजरात का हिटलर है? तरुण ने पाटीदार आंदोलन के दौरान मारे गए 14 युवकों की हत्या के लिए हार्दिक को जिम्मेदार ठहराया। वह हार्दिक के कांग्रेस में शामिल होने केविरोध में भी चिल्ला रहा था।

हार्दिक ने कहा-हमलावर बाहरी है स्थानीय नहीं

पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के पूर्व नेता हार्दिक का गुजरात गृहराज्य है। वे सुरेंद्रनगर जिले के वढवाण तालुका के बलदाणा गांव में कांग्रेस की जन आक्रोश रैली को संबोधित कर रहे थे। हार्दिक ने इस घटना के बाद भी अपना संबोधन जारी रखा। उन्होंने बाद में पत्रकारों से कहा कि यह उन्हें डराने के लिए भाजपा की साजिश है। हमलावर बाहरी है स्थानीय नहीं।भाजपा मुझ पर हमले करवा रही है। वे मुझे जान से मारना चाहते हैं, लेकिन हम चुप नहीं रहेंगे। हार्दिक ने इस संबंध में थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

भाजपा प्रवक्ता नरसिम्हा राव पर जूता फेंका
इससे पहले गुरुवार को भाजपा कार्यालय में पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक व्यक्ति ने जूता फेंका था। यह पहली बार है जब भाजपा कार्यालय में ऐसी कोई घटना हुई। बताया जा रहा है कि जीवीएल प्रेस कॉन्फ्रेंस में भोपाल से भाजपा की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी पर बात कर रहे थे। जीवीएल ने घटना के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं रोकी और पत्रकारों से बैठे रहने को कहा। उन्होंने कहा कि हमलावर ने कांग्रेस की मानसिकता दर्शाई है। इस दौरान भाजपा के महासचिव भूपेंद्र यादव भी मंच पर मौजूद थे। जूता फेंकने वाले की पहचान कानपुर के डॉ. शक्ति भार्गव के रूप में हुई, जो अपने आपको व्हिसल ब्लोअर बताता है।

Share
Next Story

हैप्पी वैलेंटाइन डे / वैलेंटाइन डे स्पेशल ऑफर के टॉप 15 मैसेज पब्लिश

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News