Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

वाराणसी / मोदी ने नामांकन दाखिल किया, डोम राजा और मदन मोहन मालवीय की मुंहबोली बेटी बनीं प्रस्तावक

  • मोदी ने नामांकन दाखिल करने से पहले काल भैरव मंदिर में पूजा की
  • 7 सहयोगी दलों के नेता नीतीश, उद्धव, प्रकाश सिंह बादल, पन्नीरसेल्वम, पासवान, अनुप्रिया पटेल और नेफ्यू रियो बनारस पहुंचे
  • कार्यकर्ताओं से कहा- काशी जीतने का काम कल ही पूरा हो गया

Dainik Bhaskar

Apr 26, 2019, 07:03 PM IST

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार कोवाराणसी लोकसभासीट से दूसरी बार पर्चा भरा। डोमराजा जगदीश चौधरी, मदन मोहन मालवीय की मुंहबोली बेटी अन्नपूर्णा शुक्ला, कृषि वैज्ञानिक राम शंकर पटेल और संघ कार्यकर्ता सुभाष गुप्ता मोदी के प्रस्तावक बने। इस दौरानएनडीए के सात सहयोगी दलों के प्रमुख नेता भीमौजूद रहे। मोदी ने अन्नपूर्णा शुक्ला और प्रकाश सिंह बादल के पैर छूकर आशीर्वाद लिया।

कलेक्टोरेट पहुंचने से पहले मोदी ने काल भैरव मंदिर में पूजा की। मोदी के नामांकन भरने के दौरान एनडीए का शक्ति प्रदर्शन नजर आया। बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू प्रमुख नीतीश कुमार, शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल और सुखबीर बादल, अन्नाद्रमुक नेता ओ पन्नीरसेल्वम और थम्बीदुरई, लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान, अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल और एनडीपीपी नेता और नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफ्यू रियो बनारस पहुंचे। इन सभी का भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने स्वागत किया।भाजपा की तरफ से शाह के अलावा उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, उत्तरप्रदेश के प्रभारी जेपी नड्डा, गृह मंत्री राजनाथ सिंह औरसड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी मौजूद रहे।

मोदी ने कहा- सबसे ज्यादा वोटों से जीत भले न मिले, लोकतंत्र जीतना चाहिए

नामांकन से पहलेबूथ अध्यक्ष और अन्य पदाधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा- मोदी सबसे ज्यादा वोट से जीते या न जीते, लोकतंत्र जीतना चाहिए। मोदी ने यह भी कहा कि काशी को तो कल ही जीत लिया। उनका इशारा गुरुवार को उनके द्वारा किए गए मेगा रोड शो में उमड़े जनसैलाब की ओर था। प्रधानमंत्री ने कहा-मैं गंदी से गंदी चीज को भी खाद बनाता हूं और इसमें कमल खिलाता हूं।

मोदी ने आगेकहा किवाराणसी का चुनाव ऐसा होना चाहिए कि देश के पॉलिटिकल पंडितों को उस पर किताब लिखने का मन कर जाए। हर किसी का दिल जीतना है। हमारा केंद्र बिंदु मतदाता होना चाहिए। न मोदी होना चाहिए, न प्रतिस्पर्धी होना चाहिए। इसी एक बात को लेकर आप चलेंगे।

गुरुवार कोरोड शो और गंगा आरती की थी

मोदी ने गुरुवार को वाराणसी में सात किमी लंबा रोड शो किया था, जो दशाश्वमेध घाट पर खत्म हुआ।मोदी यहां गंगा आरती में शामिल हुए। आरती के बाद मोदी ने गंगा की पूजा-अर्चना भी की।मोदी ने रोड शो के बाद एक जनसभा को भी संबोधित किया। उन्होंनेकहा, ''पांचवर्ष पहले जब काशी की धरती पर मैंने कदम रखा था, तब कहा था कि मां गंगा ने मुझे बुलाया है। गंगा ने ऐसा दुलार दिया, काशी के बहन-भाइयों ने इतना प्यार दिया कि बनारस के फक्कड़पन में ये फकीर भी रम गया।आपकेप्यार और अधिकार का मतलब ये हुआ कि आपने चुनाव संभाल लिया।विजय के बाद आपका धन्यवाद करने आऊंगा।''

वाराणसी सेकांग्रेस ने अजय राय औरसपा ने शालिनी यादव को दिया टिकट
मोदी ने 2014 के आम चुनाव में पहली बार वाराणसी संसदीय सीट से चुनाव लड़ा था। दूसरी सीट वडोदरा थी। दोनों सीटों पर मोदी बड़े अंतर से जीते थे। बाद में उन्होंने वडोदरा सीट छोड़ दी थी। मोदी इस बार सिर्फ वाराणसी से चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस ने यहां 2014 में प्रत्याशी रहे पूर्व विधायक अजय राय को फिर मैदान में उतारा है। वहीं, सपा-बसपा गठबंधन ने शालिनी यादव को टिकट दिया है। शालिनीपूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. श्यामलाल यादव के परिवार से हैं।

Share
Next Story

एविएशन / ब्रिटेन की एयरलाइन कंपनी के सीईओ जेट एयरवेज में 1500 करोड़ रुपए लगाने को तैयार

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News