चमड़ा उद्योग / 1000 रुपए से ज्यादा के फुटवियर पर जीएसटी 18% से घटाकर 12% किया जा सकता है

सिंबॉलिक इमेज।

  • कच्चे माल के शुल्क मुक्त आयात की सीमा 3% से घटाकर 5% करने के आसार
  • इंडस्ट्री की मांग- कच्चे माल पर जीएसटी भी 18% से घटाकर 12% किया जाए
  • 20 सितंबर को जीएसटी काउंसिल की बैठक में इन प्रस्तावों पर फैसला संभव

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 11:20 AM IST

नई दिल्ली. सरकार चमड़ा उद्योग के लिए राहत के ऐलान कर सकती है। एक हजार रुपए से ज्यादा कीमत के जूते-चप्पलों पर जीएसटी 18% से घटाकर 12% करने पर विचार किया जा रहा है। एक्सपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए कच्चे माल के शुल्क मुक्त आयात की सीमा 3% से बढ़ाकर 5% की जा सकती है। न्यूज एजेंसी ने गुरुवार को यह रिपोर्ट दी। लैदर इंडस्ट्री चाहती है कि कच्चे माल पर जीएसटी भी 18% से घटाकर 12% किया जाए।

काउंसिल फॉर लैदर एक्सपोर्ट (सीएलई) के चेयरमैन पी आर अकील अहमद का कहना है कि फुटवियर पर जीएसटी घटने से अपने उत्पादों को अंतरराष्ट्रीय बाजार में प्रतिस्पर्धी बनाने में मदद मिलेगी।

भारत से चमड़े और इससे बनी वस्तुओं का सालाना 600 करोड़ डॉलर की वैल्यू का निर्यात होता है। यूरोप और अमेरिका में प्रमुख रूप से एक्सपोर्ट किया जाता है। जुलाई में एक्सपोर्ट 4% घटकर 47.3 करोड़ डॉलर का रह गया। चमड़ा उद्योग ने 42 लाख लोगों को रोजगार दे रखा है।

Share
Next Story

दिल्ली / कनाडाई युवक ने इमीग्रेशन अधिकारी को पीटा, दुर्व्यवहार के चलते एयरपोर्ट से ही वापस भेजा गया

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News