Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

आलोचना/ मोदी सरकार राजनीति के लिए आंतकवाद का इस्तेमाल न करे: शिवसेना

Dainik Bhaskar | Feb 19, 2019, 02:36 PM IST
उद्धव ठाकरे
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

  • मोदी की जान पर खतरे वाला ईमेल तलाश लेती हैं सुरक्षा एजेंसियां पर आतंकी हमले को नहीं भांप पातीं: शिवसेना
  • गठबंधन के एक दिन बाद अपने मुखपत्र सामना के जरिए शिवसेना ने भाजपा पर निशाना साधा

मुंबई. भाजपा से गठबंधन के एक दिन बाद शिवसेना ने सामना में लिखे संपादकीय में कहा गया है कि सुरक्षा एजेंसियां इतनी चुस्त हैं कि प्रधानमंत्री की जान पर खतरे वाला ईमेल तुरंत पकड़ लेती हैं, लेकिन उन्हें यह पता नहीं चलता कि पुलवामा में आतंकी सेना के काफिले को निशाना बनाने वाले हैं। अपने मुखपत्र में मोदी सरकार को चेतावनी भी दी गई है कि दंगों और आतंकी हमलों का इस्तेमाल राजनीतिक फायदे के लिए न किया जाए।Advertisement

‘अपने आचरण को संयमित रखे सरकार’

  1. मुखपत्र में लिखा गया है कि मोदी सरकार इस तरह से आचरण न करे जिसमें झलकता हो कि वह चुनावी फायदे के लिए युद्ध की स्थिति बनाना चाहती है। इससे उन अफवाहों को बल मिलेगा जिनमें कुछ समय पहले से कहा जा रहा है कि चुनावी फायदे के लिए मोदी सरकार युद्ध कर सकती है। 

    Advertisement

  2. कश्मीर के छात्रों को निशाना बनाने से भाजपा का नुकसान: सेना

    भाजपा सरकार को चेतावनी दी गई है कि आतंकी हमले के बाद कश्मीर के छात्रों को निशाना बनाने से सरकार को उसी तरह से नुकसान हो सकता है जैसे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हुए 1984 के दंगों से कांग्रेस को आज तक हो रहा है। 

  3. सिद्धू की आलोचना तो नेपाल सिंह क्यों बच निकले

    सेना का कहना है कि पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को अपने बयानों के लिए तीखी आलोचना झेलनी पड़ रही है जबकि भाजपा के विधायक नेपाल सिंह के उस बयान को नजरंदाज किया गया, जिसमें उन्होंने कहा था कि सेना के जवान मरने के लिए ही होते हैं। 

  4. 2014 से पहले हर आतंकी हमले के लिए संघ और मोदी मनमोहन नीत यूपीए सरकार को जिम्मेदार बताते थे। उन्हें समझना चाहिए कि लोग चाहते हैं कि मौजूदा प्रधानमंत्री आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंके।