Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जम्मू/ पाक ने घायल जवान को अगवा कर 9 घंटे तड़पाया; गला रेता, टांग काटी, आंख निकाली



तस्वीरें और भी वीभत्स हैं। हम एक फोटो ही सामने ला रहे हैं। ताकि आप जान पाएं कि पाक ने हमारे जवान के साथ क्या किया।
  • इंटरनेशनल बॉर्डर पर पहली बार ऐसी घटना
  • एलओसी पर पहले भी पाक फौज-आतंकियों की टीम ऐसा कर चुकी है 
  • बीएसएफ ने पोस्टमार्टम करवाकर 51 साल के शहीद का शव सोनीपत में उनके घर भिजवा दिया
Dainik Bhaskar | Sep 20, 2018, 09:39 AM IST

जम्मू. सांबा जिले के रामगढ़ सेक्टर में मंगलवार को शहीद हुए बीएसएफ जवान नरेंद्र सिंह (51) को पाकिस्तानी सैनिकों ने 9 घंटे तड़पाया था। उनका शव बेहद खराब हालत में मिला है। गला रेता गया है। एक टांग कटी हुई है। आंख निकाल रखी है। पीठ पर करंट लगाने से झुलसने के निशान हैं। शहीद के शरीर पर तीन गोलियां लगी हैं। एक गोली शुरुआती हमले में लगी थी। बाकी दो यातनाएं देने के बाद मारी गईं।

लापता होने के नौ घंटे बाद जवान का शव मिला

  1. जवान नरेंद्र सिंह के लापता होने के करीब नौ घंटे बाद उनका शव मिला था। मंगलवार शाम करीब 6.00 बजे शहीद का पार्थिव शरीर मिलने के बाद भी बीएसएफ ने उसे अस्पताल नहीं भिजवाया।

  2. बुधवार को गुपचुप तरीके से पोस्टमार्टम करवाकर शव घर भिजवाने की प्रक्रिया शुरू कर दी। बीएसएफ का कोई अधिकारी इस घटना पर सामने आकर नहीं बोल रहा। कुछ अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान बॉर्डर पर शहीद के शरीर के साथ बर्बरता की यह पहली घटना है।

  3. इसके बाद 192 किमी लंबे भारत-पाकिस्तान बॉर्डर और 740 किमी लंबी नियंत्रण रेखा पर हाई अलर्ट जारी किया गया है। अधिकारियों ने कहा कि इस बर्बरता के पीछे पाकिस्तानी सैनिकों का हाथ है।

  4. पाकिस्तानी सेना ने नहीं की मदद

    मंगलवार सुबह पाकिस्तानी फायरिंग के बाद नरेंद्र सिंह लापता हो गए थे। पाक की बैट टीम नरेंद्र को अगवा कर ले गई। बीएसएफ ने हाॅटलाइन पर पाकिस्तानी रेंजरों से बात कर जवान को ढूंढने के लिए ज्वाइंट पैट्रोलिंग का आग्रह किया। लेकिन, उन्होंने बहाना बनाया कि उनके इलाके में बॉर्डर के पास पानी भरा है।

  5. दिल्ली से इस्लामाबाद पर दबाव बनाए जाने के बाद ही शाम छह बजे शव बॉर्डर पर मिला। चर्चा यह भी है कि फ्लैग मीटिंग के बाद शव मिला। बीएसएफ ने सिर्फ यह कहा है कि शव इलाके से बरामद हुआ है।

  6. जवान के बेटे ने कहा- कोई कुछ नहीं बता रहा

    शहीद नरेंद्र के बेटे मोहित ने बुधवार कहा कि सुबह पिता की शहादत का पता चला। सरकार बताए उनके साथ क्या हुआ। कोई अफसर कुछ नहीं बता रहा। हम सीजीओ कॉम्पलेक्स भी गए, वहां भी कुछ पता नहीं चला।

  7. केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि पाक के लिए बर्बरता नई बात नहीं है। वह पहले भी ऐसा करता रहा है। पाकिस्तान सीधी जंग में भारत काे हरा नहीं सका। जवानों को मारकर हमें कमजोर करने के प्रयास उसकी नीति है।

शहीद हेड कॉन्स्टेबल नरेंद्र कुमार।
Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें