बैंकिंग / पीएनबी, ओबीसी और यूबीआई के मर्जर से बनने वाला बैंक 1 अप्रैल से काम शुरू करेगा; नया नाम संभव

  • देश का दूसरा बड़ा बैंक बनेगा, 18 लाख करोड़ रुपए का कारोबार होगा
  • यूबीआई के सीईओ ने कहा- कर्मचारियों की छंटनी नहीं होगी, वीआरएस योजना के आसार भी नहीं

Dainik Bhaskar

Sep 14, 2019, 07:02 PM IST

कोलकाता. पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी), ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (यूबीआई) के मर्जर से बनने वाला बैंक 1 अप्रैल 2020 से काम करने लगेगा। यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के सीईओ अशोक कुमार प्रधान ने शनिवार को यह जानकारी दी। मर्ज बैंक को नया नाम मिलने के आसार हैं। तीनों बैंकों के मर्जर से देश का दूसरा बड़ा बैंक बनेगा। इसका कारोबार 18 लाख करोड़ रुपए होगा।

संयुक्त बैंक में 1 लाख कर्मचारी और 11400 शाखाएं होंगी

कोलकाता में तीनों बैंकों ने ग्राहकों की बैठक रखी। बैंकों ने कहा है कि कर्मचारियों की कोई छंटनी नहीं होगी। बैंकों ने वीआरएस की योजना लाने की संभावना से भी इनकार किया। प्रधान ने बताया कि मर्जर के बाद कर्मचारियों की संख्या 1 लाख और शाखाओं की संख्या 11,400 हो जाएगी।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 30 अगस्त को 10 बैंकों को मर्ज कर 4 बैंक बनाने का ऐलान किया था। सरकार पंजाब नेशनल बैंक को 16 हजार करोड़ रुपए और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को 1,600 करोड़ रुपए की पूंजी देगी।

प्रधान ने बताया कि शेयर स्वैप रेश्यो के लिए वैल्यूअर नियुक्त किए जाएंगे। उसके बाद एक मर्चेंट बैंक वैल्यू तय करेगी। उसके आधार पर शेयर स्वैप रेश्यो तय किया जाएगा।

 

 

Next Story

तमिलनाडु / नौकरी मांगने पहुंचे 12 दिव्यांग, डीएम ने कलेक्ट्रेट परिसर में ही ‘कैफे एबल’ खुलवा दिया

Next