अनुच्छेद 370 / कश्मीरी महिला ने राहुल से कहा- बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे, बाहर निकलने पर पकड़ लिए जाते हैं

  • राहुल गांधी शनिवार को आठ दलों के 11 विपक्षी नेताओं के साथ श्रीनगर पहुंचे थे
  • श्रीनगर एयरपोर्ट पर हंगामे के बाद प्रशासन ने सभी नेताओं को दिल्ली लौटा दिया था
  • दिल्ली आते वक्त विमान में महिला राहुल से मिली, प्रियंका गांधी ने वीडियो शेयर किया

Dainik Bhaskar

Aug 25, 2019, 01:56 PM IST

नई दिल्ली.कांग्रेस नेता राहुल गांधी शनिवार को आठ दलों के 11 विपक्षी नेताओं के साथ श्रीनगर पहुंचे थे। यहां सुरक्षा के मद्देनजरप्रशासन ने सभी को दिल्ली लौटा दिया। इसी दौरान विमान में एक कश्मीरी महिला राहुल से मिली और उसने अपना दर्द बयां किया। महिला ने कहा कि बच्चे स्कूल से नहीं जा पा रहे हैं। अगर वे घर से निकलते हैं, तो उनको पकड़ लिया जाता है। यह वीडियो कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को शेयर किया।

विमान में महिला ने राहुल से कहा, ‘‘हम देख नहीं पाते हैं। छोटे-छोटे बच्चे हैं 10 साल के। वे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं। वे एक दूसरे को ढूंढने के लिए घर से निकले हैं, तो उनको पकड़ लेते हैं। मेरा भाई दिल का मरीजहै। वह अपने बच्चों को ढूंढने के लिए निकला था। उसे पकड़ लिया और 10 दिन तक उसका कुछ पता नहीं चला। हम हर तरीके से परेशान हैं।’’

प्रियंका ने वीडियो शेयर किया
प्रियंका ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा- ऐसा कितने दिन और चलेगा? यह उन लाखों लोगों में से एक है, जिन्हें राष्ट्रवाद के नाम पर चुप करा देते हैं या कुचल दिया जाता है। कश्मीर में लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन किया जा रहा है, यह राजनीतिक और देश विरोधी है। इसके खिलाफ आवाज उठाना हम सबका कर्तव्य है।

राहुल को श्रीनगर एयरपोर्ट से वापस भेजा गया था
राहुल शनिवार को आठ दलों के 11 विपक्षी नेताओं के साथ श्रीनगर पहुंचे थे। राहुल जम्मू-कश्मीर में हालात जानने और वहां के नागरिकों से बात करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान हंगामे की स्थिति बन गई और सभी नेताओं को दिल्ली वापस भेज दिया गया। प्रशासन की ओर से कहा गया कि नेता राज्य का दौरा करने न आएं। उनके आने से शांति व्यवस्था बनाए रखने की कोशिशों में खलल पड़ सकता है।

कश्मीर में हालात सामान्य नहीं: राहुल
अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पहली बार विपक्षी नेताओं का प्रतिनिधिमंडल कश्मीरदौरे पर गया था। दिल्ली लौटने पर राहुल ने कहा, “कुछ दिन पहले राज्यपाल ने मुझे जम्मू-कश्मीर आने का न्यौता दिया था। हम लोग यह महसूस करना चाहते थे कि वहां पर लोगों के साथ क्या हो रहा है। लेकिन हमें श्रीनगर एयरपोर्ट से बाहर जाने की अनुमति नहीं दी गई। हमारे साथ बदसलूकी हुई और मीडियाकर्मियों को पीटा गया। इससे साफ है कि राज्यके हालात सामान्य नहीं हैं।

Share
Next Story

राजस्थान / छीलते वक्त उछलकर क्लासमेट की आंख में लगी पेंसिल, छह साल केे बच्चे पर एफआईआर

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News