पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
No ad for you

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिसकर्मी की सरेराह पिटाई:मुंबई में महिला ने ट्रैफिक कांस्टेबल को मारे थप्पड़; राउत बोले- यह पुलिस के सम्मान पर सवाल

मुंबईएक महीने पहले
महिला द्वारा ट्रैफिक कांस्टेबल की पिटाई का वीडियो वायरल हो रहा है। आरोपी महिला और उसके साथी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
No ad for you

हेलमेट न पहनने पर ट्रैफिक कांस्टेबल ने एक महिला को रोका तो उसने कांस्टेबल को सरेराह थप्पड़ मारे। पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि यह घटना साउथ मुंबई के कालबादेवी इलाके में हुई। महिला ने हेलमेट नहीं लगाया था। ट्रैफिक कांस्टेबल ने उसे टोका तो उसने बदसलूकी की और फिर उसे पीटना शुरू कर दिया। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख को टैग करते हुए ट्वीट किया कि इस महिला पर तुरंत एक्शन लिया जाना चाहिए। यह मुंबई पुलिस के सम्मान का मामला है। महिला और उसके सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

फाइन लगाने की बात कही तो महिला भड़क गई

ट्रैफिक कांस्टेबल एकनाथ पार्थ ने शुक्रवार दोपहर बाइक से जा रहे 2 लोगों को रोका था। इनमें एक महिला थी। उसने हेलमेट नहीं लगा रखा था। एकनाथ पार्थ ने उनसे फाइन लगाने की बात कही तो महिला भड़क गई। उसने कांस्टेबल को पीटना शुरू कर दिया।

इस दौरान काफी भीड़ जुट गई। किसी ने घटना का वीडियो बना लिया। इसमें महिला कहती नजर आ रही है कि कांस्टेबल ने उसके साथ बदतमीजी की है। वहीं, कांस्टेबल ने इससे इनकार किया।

एक महिला पुलिसकर्मी मौके पर पहुंची और कांस्टेबल को बचाया। इसके बाद आरोपी महिला सादविका रमाकांत तिवारी और उसके साथी मोहसिन खान को लोकमान्य तिलक रोड थाने ले जाया गया। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जॉइंट कमिश्नर ने की कांस्टेबल की तारीफ

घटना के बाद ट्रैफिक पुलिस ने एक रिलीज जारी कर कहा कि कांस्टेबल ने गलत शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया था। उन्होंने आरोपियों के साथ विनम्रता से बात की। जॉइंट कमिश्नर ऑफ पुलिस (ट्रैफिक) यशस्वी यादव ने कांस्टेबल की तारीफ करते हुए कहा कि महिला की ओर से किए गए खराब बर्ताव और मारपीट के बावजूद उन्होंने आपा नहीं खोया।

No ad for you

देश की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.