शेयर बाजार / सेंसेक्स 350 अंक की बढ़त के साथ 35500 के ऊपर, निफ्टी में 100 प्वाइंट की तेजी

  • दूसरे एशियाई बाजारों में बढ़त से भारतीय बाजार में सेंटीमेंट बेहतर हुए
  • आरबीआई के नए गवर्नर की नियुक्ति से नकदी संकट जल्द सुलझने की उम्मीद
  • इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस के शेयर में 6% उछाल

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2018, 10:38 AM IST

मुंबई. शेयर बाजार में बुधवार को जोरदार तेजी आई। सेंसेक्स 629 अंक चढ़कर 35,779 पर बंद हुआ। निफ्टी की क्लोजिंग 188 प्वाइंट की तेजी के साथ 10,738 पर हुई। सेंसेक्स के सभी 30 और निफ्टी के 50 में से 46शेयरबढ़त में रहे। इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस के शेयर में 7% की तेजी आई।

एनएसई पर रियल्टी इंडेक्स में 1.45% की बढ़त

  1. बीएसई के सभी 19 सेक्टर इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए। रियल्टी इंडेक्स 4% फायदे में रहा। मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स में 2.5% की तेजी रही।

  2. निफ्टी के टॉप-5 गेनर

    शेयर बढ़त
    भारती एयरटेल 7.15%
    इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस 6.91%
    हीरो मोटोकॉर्प 6.88%
    अडानी पोर्ट्स 5.37%
    यूपीएल 5.02%

     

     

    निफ्टी के लूजर

    शेयर गिरावट
    डॉ. रेड्डी 4.38%
    इन्फ्राटेल 0.77%
    हिंदुस्तान पेट्रोलियम 0.55%
    टाइटन 0.39%

     

  3. विश्लेषकों के मुताबिक दूसरे एशियाई बाजारों में तेजी और आरबीआई के नए गवर्नर की नियुक्ति होने से भारतीय बाजार को फायदा हुआ।

  4. सरकार ने मंगलवार को शक्तिकांत दास को आरबीआई का नया गर्वनर नियुक्त करने का ऐलान किया। इंडस्ट्री को उम्मीद है कि नए गवर्नर बैंकिंग और एनबीएफसी सेक्टर में नकदी संकट दूर करने के तुरंत उपाय करेंगे। इससे छोटी अवधि के निवेशकों के सेंटीमेंट भी सुधरेंगे।

  5. शेयर बाजार में मंगलवार को भारी उतार-चढ़ाव रहा

    पांच राज्यों के चुनाव नतीजों के शुरुआती रुझानों के बाद मंगलवार को शेयर बाजार में तेज गिरावट आई थी। इंट्रा-डे में सेंसेक्स 500 अंक लुढ़क गया था। लेकिन, बाद में निचले स्तरों से शानदार रिकवरी हुई। सेंसेक्स मंगलवार को 190 और निफ्टी 61 अंक की बढ़त के साथ बंद हुए।

  6. एशियाई बाजारों में 2% तक बढ़त

    एशियाई बाजारों में बुधवार को तेजी दर्ज की गई। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन के साथ व्यापार विवाद सुलझने की उम्मीद जताई। इससे एशियाई शेयर बाजारों में सेंटीमेंट बेहतर हुए। जापान के निक्केई में 1.96% और चीन के शंघाई कंपोजिट इंडेक्स में 0.20% की बढ़त आई।

  7. रुपए में 32 पैसे की गिरावट, क्रूड के रेट में 1% उछाल

    डॉलर के मुकाबले रुपया बुधवार को भी कमजोर हुआ। इंट्रा-डे में यह 32 पैसे गिरकर 72.17 के स्तर पर आ गया। मंगलवार को यह 53 पैसे टूटकर 71.85 पर बंद हुआ था।

  8. कारोबारियों के मुताबिक आरबीआई के ताजा घटनाक्रम और क्रूड के रेट बढ़ने की वजह से रुपए पर दबाव आया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का रेट बुधवार को 1.08% बढ़कर 60.85 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

Share
Next Story

राफेल / सुप्रीम कोर्ट ने विमान के बारे में जानकारी मांगी; केंद्र ने कहा- कीमत नहीं बता सकते

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News