शेयर बाजार / सेंसेक्स 262 अंक गिरकर 37123 पर, निफ्टी 72 प्वाइंट नीचे 11003 पर बंद

  • इंट्रा-डे में सेंसेक्स37029 के स्तर तक फिसला, निफ्टी ने 10968 का निचला स्तर छुआ
  • क्रूडमहंगा होने से तेल कंपनियों के शेयरों में ज्यादा दबाव रहा, बीपीसीएल 7% लुढ़का

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2019, 05:04 PM IST

मुंबई. शेयर बाजार हफ्ते के पहले दिन नुकसान में रहा। सेंसेक्स 261.68 अंक की गिरावट के साथ 37,123.31 पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान 356 अंक लुढ़क कर 37,028.94 पर आ गया था। निफ्टी की क्लोजिंग 72.40 प्वाइंट नीचे 11003.50 पर हुई। इंट्रा-डे में 108 अंक गिरकर 10,968.20 का निचला स्तर छुआ था। विश्लेषकों के मुताबिककच्चे तेल के रेट बढ़ने की वजह से बाजार में बिकवाली हावी हुई।

पीएसयू बैंक इंडेक्स में 1.3% गिरावट

सेंसेक्स के 30 में से 24 और निफ्टी के 50 में से 36 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। एनएसई के 11 में से 7 सेक्टर इंडेक्स नुकसान में रहे। पीएसयू बैंक इंडेक्स सबसे ज्यादा 1.3% लुढ़क गया। दूसरी ओर एफएमसीजी इंडेक्स सबसे ज्याादा 0.56% फायदे में रहा।

निफ्टी के टॉप-5 लूजर

शेयर बढ़त
बीपीसीएल 7.28%
महिंद्रा एंड महिंद्रा 2.78%
एसबीआई 2.52%
यूपीएल 2.45%
इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस 2.39%

निफ्टी के टॉप-5 गेनर

शेयर गिरावट
टाइटन 2.15%
ब्रिटानिया 1.80%
टेक महिंद्रा 1.34%
ओएनजीसी 1.28%
कोल इंडिया 1.19%

ब्रेंट क्रूड में 12 डॉलर प्रति बैरल की तेजी

तेल कंपनी अरामको के दो प्लांट पर यमन के हूती लड़ाकों ने शनिवार को ड्रोन से हमला कर दिया। इससे सऊदी में कच्चे तेल का उत्पादन 50% घट गया। यह ग्लोबल प्रोडक्शन का 5% है। इस वजह से सोमवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का रेट इंट्रा-डे में करीब 12 डॉलर (20%) बढ़कर 71.95डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। डॉलर में यह एक दिन में अब तक का सबसे बड़ा उछाल है। हालांकि, बाद में करीब 10% तेजी रह गई। अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड की कीमत बढ़ने से भारतीय कंपनियों के लिए इंपोर्ट महंगा हो जाएगा। इसलिए, इनके शेयरों में बिकवाली का दबाव रहा।

Share
Next Story

राजस्थान / कोटा की कई कॉलोनियों में 10 फीट तक मकान डूबे, प्रदेश के 5 बांध ओवरफ्लो; 5 जिलों में बाढ़

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News