पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
No ad for you

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इतिहास में आज:प्रधानमंत्री बनने से पहले मोदी की पटना रैली में ब्लास्ट; आर्मेनिया की संसद में घुसकर पीएम की हत्या

एक महीने पहले
No ad for you

भाजपा ने सितंबर 2013 में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया था। इसके बाद पटना के गांधी मैदान में 27 अक्टूबर को हुंकार रैली की गई थी। इसमें बड़ी संख्या में लोग जुटे थे। इसी दौरान 7 धमाके हुए। 2 ब्लास्ट रेलवे स्टेशन पर हुए और 5 गांधी मैदान पर। इसमें 6 लोगों की मौत हुई और करीब 66 लोग घायल हुए।

2014 के लोकसभा चुनावों के मद्देनजर यह एक बड़ी रैली थी। बिहार में नीतीश कुमार ही मुख्यमंत्री थे और उन्होंने जून में NDA से बाहर होने का फैसला किया था। दरअसल, मोदी को BJP/NDA का प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने की सुगबुगाहट शुरू हो गई थी और इसी बात को लेकर नीतीश नाराज चल रहे थे। प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने के बाद मोदी की यह पटना में पहली रैली थी। इस वजह से इस पर पूरे देश की नजरें थीं।

पिछले साल यानी ब्लास्ट के 6 साल बाद नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने इस बम ब्लास्ट के एक आरोपी को हैदराबाद से गिरफ्तार किया था। हैदराबाद से पकड़े गए इस आतंकी का नाम अजहरुद्दीन उर्फ केमिकल अली है। इंडियन मुजाहिदीन (IM) के इस आतंकी को हैदराबाद एयरपोर्ट से उस वक्त गिरफ्तार किया गया, जब वह विदेश जाने की कोशिश में था।

आर्मेनिया की संसद में गोलीबारी

आर्मेनिया की संसद पर हमले की साजिश रचने वाला मास्टरमाइंड नायरी हुनायन को 2003 में दोषी ठहराया गया और इस समय वह उम्रकैद की सजा काट रहा है।

कुछ हथियारबंद हमलावरों ने 1999 में आर्मेनिया की संसद में सांसदों पर गोलीबारी शुरू कर दी थी। इस हमले में आर्मेनिया के प्रधानमंत्री वाजगेन सर्ग्सयान और स्पीकर कारेन देमिरच्यान मारे गए थे। बागी हमलावरों का दावा था कि उनके निशाने पर प्रधानमंत्री थे। आर्मेनियाई सैनिकों ने संसद भवन को चारों ओर से घेर लिया था, तब जाकर हमलावरों ने सरेंडर किया था।

इतिहास में आज के दिन को इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है:

  • 1605: मुगल साम्राज्य के तीसरे शासक अकबर का फतेहपुर सीकरी में निधन हुआ।
  • 1676: पोलैंड और तुर्की ने वारसा की संधि पर हस्ताक्षर किए।
  • 1795ः अमेरिका और स्पेन ने सैन लोरेंजो की संधि पर हस्ताक्षर किए।
  • 1811: सिलाई मशीन के आविष्कारक आइजैक मेरिट सिंगर का जन्म हुआ।
  • 1904ः स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी जितेंद्र नाथ दास उर्फ जतिन दास का कलकत्ता में जन्म हुआ।
  • 1905: नार्वे स्वीडन से अपना गठजोड़ समाप्त करके स्वतंत्र हो गया।
  • 1910: रूस और चीन के साथ कई वर्षों के युद्ध के बाद जापान को 1910 में इन दोनों देशों पर जीत मिली।
  • 1920: लीग ऑफ नेशन का मुख्यालय जिनेवा में स्थानांतरित किया गया।
  • 1924ः उज्बेक एसएसआर 1924 को सोवियत संघ में मिला।
  • 1952ः सिंगर अनुराधा पौडवाल का जन्‍म हुआ।
  • 1982ः चीन ने अपनी जनसंख्या एक अरब से ज्यादा होने का ऐलान किया।
  • 1991: तुर्कमेनिस्तान की उच्च परिषद ने सोवियत संघ से इस देश की स्वतंत्रता को मंजूरी दी गई।
  • 1995ः यूक्रेन में कीव स्थित चेर्नोबिल परमाणु संयुत्र सुरक्षा खामियों के कारण पूरी तरह बंद किया गया।
  • 2003ः चीन में भूकंप से 50,000 से अधिक लोग प्रभावित। बगदाद में बम धमाकों से 40 की मौत।
  • 2004ः चीन ने विशालकाय क्रेन का निर्माण किया।
No ad for you

देश की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.