Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

तेल न मिलने से 102 के थमने लगे पहिए, दूसरे ब्लॉकों से बुलाई एंबुलेंस

Bhaskar News Network | Sep 12, 2018, 02:01 AM IST

डॉ. राधाकृष्णन मेडिकल कॉलेज के अधीन चलने वाली एंबुलेंस 102 के अब पहिए थम गए हैं। तेल की सप्लाई न मिल पाने के कारण यह...

-- पूरी ख़बर पढ़ें --
डॉ. राधाकृष्णन मेडिकल कॉलेज के अधीन चलने वाली एंबुलेंस 102 के अब पहिए थम गए हैं। तेल की सप्लाई न मिल पाने के कारण यह गंभीर समस्या पैदा हो गई है। ऐसे में समस्या को गंभीर होने से बचाने के लिए दूसरे ब्लॉकों में चल रही यह एंबुलेंस हमीरपुर के लिए बुला ली गई हैं ताकि गर्भवती प्रसूता महिलाओं को समय पर घरों तक छोड़ा और लाया जा सके। सूत्रों के मुताबिक हमीरपुर के तहत जो भी 102 एंबुलेंस चल रही हैं, उनकी आठवें माह की पेमेंट निर्धारित किए गए यहां के दो निजी पेट्रोल पंपों पर न हो पाने के कारण वहां से तेल देने का कार्य रोक दिया गया है। हालांकि कंपनी के जिला अधिकारी बेशक इसके पीछे कुछ पेमेंट शीघ्र आने की बात कर रहे हों, लेकिन समस्या इतनी गंभीर होने लगी हैं कि इन एंबुलेंस को यदि शीघ्र तेल नहीं मिलने शुरू हुआ तो इनकी तेल टंकियां खाली हो जाएंंगी। वैसे तय किए गए पेट्रोल पंपों से दूसरे बाहरी क्षेत्रों के एंबुलेंस भी तेल भरवाती हैं।

कितनी पेमेंट उधार : दरअसल यहां तीन पेट्रोल पंप हैं, जिनमें 102 एंबुलेंस में तेल को भरवाने की अनुमति दी गई है। इनमें कश्मीरी और दूसरा पेट्रोल पंप हैं। इन्हीं की करीब 1 लाख की राशि का भुगतान होना है, जिसमें देरी होने के कारण तेल की सप्लाई को देना रोक दिया गया है जो हमीरपुर में एंबुलेंस खड़ी हैं, उनमें इतना तेल ही नहीं हैं कि वह 40 किलोमीटर से ऊपर का सफर कर मरीजों को छोड़ सकें। यहीं कारण हैं कि दूसरे ब्लॉकों, सुजानपुर, नादौन और भोरंज से यह एंबुलेंस हमीरपुर भेजने को कहा गया है ताकि यहां कार्य न रुक सके। हालांकि अभी तक बाहरी क्षेत्रों को भेजने का क्रम थम गया है। एंबुलेंस 102 के तहत नि:शुल्क गर्भवती महिलाओं को कॉल ड्रॉप करने का प्रावधान है, हमीरपुर के मेडिकल कॉलेज के तहत यह 4 हैं, जबकि पूरे जिला में 9 के करीब हैं।

मेडिकल कॉलेज हमीरपुर के डी-ब्लाॅक में खड़ी एंबुलेंस-102 तेल नहीं मिल रहा।

मरीजों को नहीं आने देंगे कोई समस्या