Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

नारनौल/ गाड़ी में रखे साढ़े ‌‌Rs.9 लाख निकाल ले गया बच्चा, व्यापारी केले खाता रह गया

Dainik Bhaskar | Sep 12, 2018, 04:06 PM IST
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

  • बैंक से पैसे निकलवाकर लाया था व्यापारी, गाड़ी साइड में खड़ी कर खा रहा था केले

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 04:06 PM IST

नारनौल। बैंक से पैसे निकलवाने के बाद व्यापारी अपनी गाड़ी साइड में खड़ी करके दुकान से केले खरीदकर खा रहा था कि एक अज्ञात बच्चा चुपचाप उसकी गाड़ी में रखे साढ़े 9 लाख रुपए निकालकर चलता बना। व्यापारी को इसकी भनक तक नहीं लगी। केले खाकर जब घर जाने के लिए वह गाड़ी में बैठा तब पैसे गायब हो जाने का पता चला। हालांकि सीसीटीवी फुटेज में गाड़ी से पैसे निकालने का दृश्य आ गया है, किंतु वह इतना धुंधला है कि बच्चे की पहचान नहीं हो सकी।

यह वाकयामंगलवार दोपहर नागरिक अस्पताल के समीप स्थित पीएनबी के पास हुआ। दिन दहाड़े एक बालक व्यापारी की अॉल्टो गाड़ी में रखे 9.50 लाख रुपए चोरी करके ले गया। घटना की सूचना पर पहुंची अस्पताल चौकी पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाली व बच्चे की तलाश में पूछताछ की लेकिन बच्चा हाथ नहीं लगा। सीसीटीवी कैमरे में बच्चा खाकी पैंट व सफेद शर्ट पहने हुए दिखाई दे रहा है। अनाज मंडी स्थित अभय ट्रेडर्स के मालिक का बेटा लक्की व बलाहां खुर्द निवासी भूपसिंह पुत्र रामकुमार बैंक से रुपए निकलवाने के लिए गाड़ी में बैठकर गए थे। उन्होंने बैंक से 14 लाख रुपए की नकदी निकाल ली। नकदी निकालने के बाद भूपसिंह ने साढ़े 4 लाख रुपए कैलाशचंद नामक युवक को दे दिए। रुपए देने के बाद बाकी बचे साढ़े 9 लाख रुपए उसने थैले में डालकर गाड़ी में रख दिए।

वहीं पास में खड़े रेहड़ी वाले से केले लेकर गाड़ी की तरफ पीठ करके उन्हें खाने लग गए। इतने में एक चुपचाप बच्चा आया व गाड़ी की खिड़की खोलते हुए बैग को लेकर फरार हो गया। जब घर जाने के लिए वे गाड़ी में बैठे तो बैग गायब मिला। उन्होंने आसपास पता किया तो बर्गर की रेहड़ी लगाए व्यक्ति ने बताया कि एक बच्चा बैग लेकर गया। पीड़ित ने इसकी जानकारी अस्पताल चौकी पुलिस को दी। सूचना पाकर अस्पताल चौकी पुलिस मौके पर पहुंची व बच्चे की शिनाख्त के लिए बैंक के सीसीटीवी की फुटेज खंगाली। जिसमें बच्चा जाता हुआ दिखाई दे रहा है जबकि चोरी करते हुए बच्चा दिखाई नहीं दिया। पुलिस ने पीड़ित भूपसिंह की शिकायत पर प्राथमिकता के आधार पर छानबीन शुरू कर दी है।