पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
Loading advertisement...

मुगलों के शाही मैदान में 2 बाघों से लड़ कर राजा खेमकरण ने दिखाई वीरता

5 वर्ष पहले
Loading advertisement...
दैनिक भास्कर पढ़ने के लिए…
ब्राउज़र में ही
कईसंगठनों ने राजा खेमकरण की जयंती कार्यक्रम आयोजित कर मनाई। सोगरिया समाज कल्याण समिति ने मथुरा रोड स्थित प्रतिमा परिसर में मनाई गई। इस अवसर पर राजा खेमकरण की प्रतिमा पर जल 11 किलो दुग्धाभिषेक किया गया। बाद में देश समाज की सुख समृद्धि को अखंड हवन किया।

वक्ताओं ने कहा कि राजा खेमकरण सोगरिया ने स्वतंत्रता मानवता धर्म संस्कृति की रक्षा के लिए मुगल सल्तनत से लंबा संघर्ष किया था वह इतिहास में अपना विषिष्ठ स्थान रखता है। उन्होंने बताया कि चौबुर्जा स्थित फतहगढ़ी का निर्माण राजा खेमकरण सोगरिया ने कराया था। राजा खेमकरण ने दिल्ली प्रवास के दौरान मुगलों के शाही मैदान में दो बाघों से निहत्थे लड़कर अपनी वीरता और साहस से मुगल सल्तनत में भय व्याप्त कर दिया था। बाद में उन्हें बाघमार बहादुर खां की उपाधि से मुगल सम्राट ने नवाजा था। समिति अध्यक्ष बाबा अजयसिंह प्रेमी, कोषाध्यक्ष कैप्टन लक्ष्मीनारायण, महामंत्री भानुप्रताप जघीना, सरपंच बलराम सिंह, हीरासिंह, मानसिंह, वासुदेव सिंह, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष योगेश टोंटपुर आदि मौजूद थे।

भरतपुर. राजा खेमकरण सोगरिया की जयंती पर हवन में आहूतियां देते लोग।

हवन कर, गाथाओं को बयान किया

ग्रामतुहिया में राजा खेमकरण की जयंती चौपाल पर हवन कर मनाई। वक्ताओं ने राजा खेमकरण के गाथाओं का बखान किया। इस अवसर पर मेवाराम सिंह, लेखराज सिंह, गिर्राज सिंह, हाकिमसिंह, प्रेमसिंह, घमंडी सिंह, वीरेन्द्र सिंह सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। भारतीय युवा किसान यूनियन की ओर से राजा खेमकरण सोगरिया की जयंती प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं पुष्प अर्पित कर मनाई।

अस्पताल में फल वितरित

महाराजासूरजमल सेवा संगठन की ओर से राजा खेमकरण की जयंती पर जीवन निर्माण संस्था में बच्चों को फल, बिस्कुट वितरित कर भोजन कराया। राजा खेमकरण की प्रतिमा स्थित परिसर में माल्यार्पण कर हवन यज्ञ किया। इस अवसर पर चौधरी प्रताप सिंह, हरिओम रायसिस, भगतसिंह, चिराग तोमर, भूपेन्द्र जघीना, लव चौधरी, यशपाल नाहरौली, रोबिन पूनियां आदि मौजूद थे।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...