Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

ढाई हजार रुपए के सॉफ्टवेयर से आधार सॉफ्टवेयर में सेंध संभव; यूआईडीएआई बोला- संभव नहीं

भास्कर न्यूज | नई दिल्ली. आधार की सुरक्षा के मुद्दे पर मंगलवार को फिर बहस छिड़ गई। एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया...

Bhaskar News Network | Sep 12, 2018, 02:15 AM IST
भास्कर न्यूज | नई दिल्ली. आधार की सुरक्षा के मुद्दे पर मंगलवार को फिर बहस छिड़ गई। एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि ढाई हजार रुपए में मिल रहे सॉफ्टवेयर पैच से नए आधार यूजर्स एनरोल करने वाले सॉफ्टवेयर के सिक्योरिटी फीचर बंद करना संभव है। लेकिन आधार नंबर जारी करने वाली एजेंसी यूआईडीएआई ने इसे बेबुनियाद और भ्रामक दावा बताते हुए कहा कि निजी हितों के लिए कुछ लोग झूठे दावे कर रहे हैं। जिस पैच की बात कही गई है, उससे भले ही कस्टमर को अहसास हो कि वह आधार में एनरोल हो रहा है, लेकिन यह आधार के डेटाबेस में एंट्री नहीं कर सकता। बाहरी सॉफ्टवेयर को आधार डेटाबेस तक पहुंचने से रोकने की उचित व्यवस्था है।

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें