Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

बप्पा को लगाएं केसरिया-पेठा, मावा और नारियल मोदक का भोग, घर पर आसानी से तैयार करें

इस चतुर्थी हम भगवान गणेश के प्रिय मोदक की रेसिपीज़ लेकर आए हैं। इनमें आपको पूरण, अंजीर के साथ पेठे का स्वाद भी मिलेगा।

Dainikbhaskar.com | Sep 12, 2018, 09:07 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. गणेश चतुर्थी 13 सितंबर को मनाई जाएगी। गणेश उत्सव 13 से 23 सितंबर तक चलेगा। इस मौके पर भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए मोदक का भोग लगाने की परंपरा है। मोदक भगवान गणेश का पसंदीदा भोग भी माना जाता है। इस चतुर्थी हम भगवान गणेश के प्रिय मोदक की रेसिपीज़ लेकर आए हैं। इनमें आपको पूरण, अंजीर के साथ पेठे का स्वाद भी मिलेगा। 

केसरिया पेठा मोदक 
सामग्री...
मैदा- 2 कटोरी, घी- तलने के लिए और दो चम्मच मोयन के लिए। भरावन के लिए- केसरिया पेठा- 200 ग्राम, नारियल का चूरा- 150 ग्राम, सूखे मेवे की कतरन- 2 बड़े चम्मच (बादाम, काजू, पिस्ते)। 
विधि... मैदे में मोयन डालकर अच्छी तरह से मिला दें। दूध की सहायता से मैदे को सख़्त गूंध लें। पेठे को कद्दूकस करके उसमें नारियल का बुरादा और मेवे की कतरन मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। आटे की छोटी लोई बेलकर उसमें तैयार मिश्रण भरकर पोटली की तरह बंद कर दें। कड़ाही में घी गर्म करके मोदक को धीमी आंच पर तल लें। प्लेट में निकालकर ऊपर से सूखे मेवे से सजाकर भोग लगाएं। 

मावा-गुड़ मोदक 
सामग्री...
आटा- 2 कटोरी, घी या तेल- तलने और मोयन के लिए। भरावन के लिए- गुड़ 1 कटोरी कसा हुआ, नारियल- 2 चम्मच (कीसा हुआ), सूखे मेवे- 2 चम्मच (कतरन), इलायची पाउडर- 1/2 छोटा चम्मच, भुना हुआ आटा- 4 छोटे चम्मच। 
विधि... आटे में मोयन डालकर अच्छी तरह से मिला लें और पानी की सहायता से सख़्त गूंध लें। अब घिसा हुआ गुड़, नारियल, सूखे मेवे की कतरन, भुना हुआ आटा, इलायची पाउडर को मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें। अब गूंधे हुए आटे की छोटी लोई बनाकर थोड़ा सा बेलें। उसमें भरावन सामग्री भरकर मोदक का आकार देकर बंद करें। कड़ाही में तेल या घी गर्म करके मोदक को तलें। सर्व करते समय ऊपर से सूखा नारियल बूरा डाल सकते हैं। 

अंजीरी मोदक 
सामग्री...
अंजीर- 4-5 (दूध में भिगोए हुए), मेवे की कतरन- 4 बड़े चम्मच, शक्कर- 1/2 कटोरी, मैदा- 2 कटोरी, घी- मोयन और तलने लिए, चाशनी- 1 कटोरी। 
विधि... मैदे में मोयन डालकर दूध या पानी की सहायता से गूंध लें। भीगे अंजीर को मिक्सी में पीस लें। एक पैन में थोड़ा-सा घी डालकर अंजीर के सूखने तक भून लें। इसमें शक्कर और सूखे मेवे मिलाकर मिश्रण को ठंडा होने के लिए रख देें। आटे की लोई बेलकर उसमें अंजीर का मिश्रण भरकर पोटली की तरह बंद करें। कड़ाही में घी गर्म करके धीमी आंच पर तल लें। चाशनी में डुबोकर ऊपर से सूखे मेवे डालकर भोग लगाएं।

मावा-कोकोनट मोदक 
सामग्री...
मैदा- 2 कटोरी, घी या तेल मोयन और तलने के लिए। भरावन के लिए- गीला नारियल- 1 कप (कीसा हुआ), खोया- 1/2 कप, शक्कर- डेढ़ कप, सूखे मेवे- 2 बड़े चम्मच (कतरन), घी- 2 बड़े चम्मच, खसखस- 1/2 छोटी चम्मच (भुनी हुई), इलायची पाउडर- 1/2 छोटा चम्मच। चाशनी के लिए- शक्कर- 1 कप, पानी- 1/2 कप, खाने वाला केसरिया रंग चुटकीभर, सजाने के लिए सूखे मेवे का चूरा (पिस्ता, बादाम, काजू, चिरौंजी), टूटी फ्रूटी- 1 बड़ा चम्मच, चांदी का वर्क। 
विधि... मैदे में मोयन मिलाकर पानी की सहायता से गूंध लें। एक पैन में घी गर्म करके घिसा हुआ नारियल डालकर भूने फिर उसमें शक्कर मिलाएं। जब गाढ़ा मिश्रण बन जाए तब उसमें खोया मिलाएं और कुछ देर भूनें। मिश्रण में इलायची, टूटी-फ्रूटी और सूखे मेवे की कतरन डालकर आंच से उतारकर ठंडा कर लें। तीन तार की चाशनी बनाएं और उसमें ज़रा सा खाने वाला रंग मिला दें। गूंधे आटे की लोई बेलकर उसमें ठंडा मिश्रण भर दें। पोटली की तरह बंद करके मोदक का आकार दें और गर्म घी या तेल में तल दें। तलकर चाशनी में डुबोकर निकाल लें। सजावट के लिए सूखे मेवे का चूरा डाल दें। 

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें