--Advertisement--

हार्दिक का उपवास खत्म करवाने के लिए कुछ शक्तियां सक्रिय

सीधे तरीके से नहीं मानने पर सरकार ने दूसरा उपाय अपनाया, कुछ संस्थाओं और विधायकों को सक्रिय किया।

Dainikbhaskar.com | Sep 11, 2018, 12:50 PM IST

अहमदाबाद। अपनी तीन मांगों को लेकर पिछले 18 दिनों से हार्दिक पटेल आमरण उपवास पर है। इस बीच उसे दो दिनों के लिए अस्पताल में भी भर्ती कराया गया था। जहां उसने शरद यादव के हाथों जल ग्रहण किया था। अब सरकार उसे दूसरे तरीके से घेरने की तैयारी कर रही है। उसने कुछ संस्थाओं और विधायकों को इस दिशा में काम पर लगा दिया है, जिससे हार्दिक का उपवास खत्म हो। भारत बंद के दौरान उससे कोई नहीं मिला…

 

हार्दिक पटेल को कांग्रेस का समर्थन पहले दिन से ही मिल रहा है। इस दौरान रोज उसके पास कोई न कोई नेता मिलने आता ही रहता है। लेकिन भारत बंद के दौरान उससे किसी ने मुलाकात नहीं की। लेकिन मंगलवार को कांग्रेस के विधायक ललित कगथरा, ललित वसोया, किरीट पटे, आशा पटेल और महेश पटेल ने उनसे भेंट की।

 

सरकार की रणनीति

एक तरफ सरकार हार्दिक के आमरण अनशन को कोई तरजीह नहीं दे रही है, दूसरी तरफ भीतर से चिंतित भी है। इसलिए उसने कई संस्थाओं और विधायकों से संपर्क किया है, ताकि उनके माध्यम से हार्दिक का उपवास तुड़वाया जा सके। इस काम के लिए कुछ पाटीदार संस्थाओं से सरकार गुपचुप बात कर रही है। दूसरी ओर हार्दिक के अस्पताल में रहने के दौरान उनके घर के पास एक डोम तैयार किया गया है। ताकि हार्दिक वहां पर बैठकर अनशन करें।

 

 
--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें