Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

सराहनीय कदम/ शादी के बाद युवती बोली- अब तभी ससुराल जाऊंगी, जब शौचालय बनेगा

Dainik Bhaskar | Sep 11, 2018, 04:18 AM IST
अपनी मां के साथ खड़ी नैंसी।
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

परिवार परामर्श केंद्र में भी नहीं हो सका मामले का निराकरण

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 04:18 AM IST

शिवपुरी.शहर की कृष्णपुरम् कॉलोनी निवासी नैंसी की लुधावली में रहने वाले जितेंद्र शाक्य से 29 अप्रैल 2018 को शादी हुई थी। पहली बार दुल्हन बनकर नैंसी पति के साथ ससुराल पहुंची तो घर में शौचालय नहीं होने पर उसे खुले में जाना पड़ा। इसके कुछ दिन बाद मायके लौट आई और फिर पति के घर नहीं गई। मायके से पत्नी घर नहीं आई तो जितेंद्र ने पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा दी।

इसके बाद मामला परिवार परामर्श केंद्र में पहुंचा। यहां रविवार को पहले दिन दोनों पक्षों को बुलाया गया जहां नैंसी ने खुलकर कहा कि पति के घर में शौचालय नहीं है। उसे खुले में जाना पड़ता है। घर में शौचालय बन जाएगा, तभी ससुराल जाऊंगी। शौचालय नहीं होने की वजह से परिवार परामर्श केंद्र में फिलहाल मामले का निराकरण नहीं हो सका है।

मायके में शौचालय है, इसलिए माता-िपता के पास रहती है नैंसी :नैंसी के पिता रामहेत शाक्य बस क्लीनर और मां सुमन गृहिणी हैं। वे कृष्णपुरम कॉलोनी में फतेहपुर रोड पर किराए के मकान में रहते हैं। यहां शौचालय है, जिससे परिवार में छह भाई-बहनों को शौच के लिए बाहर नहीं जाना पड़ता। अब ससुराल में भी शौचालय बन जाएगा, तभी नैंसी पति के साथ जाने के लिए तैयार होगी।

शौचालय के लिए जितेंद्र के पिता डेढ़साल पहले कर चुके हैं आवेदन :जितेंद्र के पिता मातादीन शाक्य व्यक्तिगत रूप से शौचालय के लिए नगर पालिका में डेढ़ साल पूर्व आवेदन कर चुके हैं, लेकिन परिवार की माली हालत ठीक नहीं होने से 1360 रुपए जमा नहीं करा सके। इस कारण ठेकेदार ने शौचालय नहीं बनवाया। घर में जितेंद्र की मां देवकी, दो भाई व एक बहन है। सभी आज भी खुले में शौच के लिए जाते हैं।

हम इस मामले की जांच कराएंगे :घर में शौचालय नहीं होने का मामला मेरे संज्ञान में नहीं आया है। मंगलवार को मामले की जांच कराकर पता लगाएंगे। पात्रता के आधार पर शौचालय का निर्माण कराया जाएगा। -चंद्रप्रकाश राय, सीएमओ, नगर पालिका, शिवपुरी