Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

शिकागो: विश्व हिंदू कांग्रेस में बोले आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत- हिंदू साथ आएंगे, तभी होगी तरक्की

DainikBhaskar.com | Sep 08, 2018, 07:40 AM IST

11 सितंबर 1893 को विश्व धर्म सम्मेलन में विवेकानंद के चर्चित भाषण के 125 साल पूरे होने पर हुआ कार्यक्रम

-- पूरी ख़बर पढ़ें --

आरएसएस प्रमुख ने कहा-हिंदू किसी का विरोधनहीं करते विश्व हिंदू कांग्रेस मेंवेंकैया नायडू, दलाई लामा,अनुपम खेर शामिल होंगे

शिकागो. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने शुक्रवार को कहा, "हिंदू कभी साथ नहीं आते। उनका एक साथ आना मुश्किल है। हिंदू हजारों सालों से प्रताड़ित हो रहे हैं, क्योंकि वे अपने मूल सिद्धांतों का पालन करना और आध्यात्मिकता भूल गए हैं। हमें साथ आना होगा। हिंदू समाज तभी प्रगति करेगा, जब वह समाज के रूप में काम करेगा।"

शिकागो में स्वामी विवेकानंद के 11 सितंबर 1893 को दिए गए चर्चित भाषण के 125 साल पूरे होने पर विश्व हिंदू कांग्रेस रखी गई है। इसमें भागवत ने कहा किहिंदू किसी का विरोध करने के लिए नहीं जीते, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी हो सकते हैं, जो हमारा (हिंदुओं) का विरोध करते हैं। वे हमें नुकसान न पहुंचाएं, इसके लिए हमें खुद को तैयार करना होगा। उन्होंने कहा कि हिंदू समाज में प्रतिभाशाली लोगों की तादाद सबसे ज्यादा है।

वेंकैया नायडू, दलाई लामा भी शामिल होंगे:इस कार्यक्रम में नीति आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया भी मौजूद रहे। वहीं, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, अभिनेता अनुपम खेर, आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले, इन्फोसिस के पूर्व डायरेक्टर टीवी मोहनदास पाई और बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा इसमें शामिल होंगे।