--Advertisement--

नर्मदा डैम का जल स्तर 115.27 मीटर हुआ, प्रति घंटे एक सेमी बढ़ रहा है पानी

ऊपरी क्षेत्रों में हो रही बारिश से डैम में 18,019 क्यूसेक पानी की हो रही है आवक

Dainikbhaskar.com | Aug 22, 2018, 04:01 PM IST

अहमदाबाद। मध्य प्रदेश के मोरटक्का, बर्गी, होशंगाबाद में बारिश होने से सरदार सरोवर में 18,019 क्यूसेक पानी की आवक हो रही है। बुधवार को नर्मदा डैम का जल स्तर 115.27 मीटर तक पहुंच गया। आरबीपीएच को बंद कर डैम में पानी का संग्रह किया जा रहा है। ऊपरी क्षेत्रों में भारी बारिश होने से नर्मदा डैम का जल स्तर चार मीटर तक बढ़ गया है। गर्मी में वायपास टनल खोल दिया था...

 

गर्मी में नर्मदा डैम के पूरी तरह से खाली होने के कारण जल संकट से उबरने के लिए इरीगेशन बायपास टनल खोल दिया गया था। पिछले चार दिनों से ऊपरी क्षेत्रों में बारिश होने से डैम में पानी बढ़ने लगा है। मंगलवार रात 8.00 बजे सरदार सरोवर में 18,019 क्यूसेक पानी की आवक हो रही थी। केनाल हेड पावर हाउस के एक टर्बाइन को चलाने के लिए 3,887 क्यूसेक पानी का इस्तेमाल हो रहा है। आरबीपीएच को बंद करके पानी का संग्रह किया जा रहा है। डैम में प्रति घंटे एक सेमी पानी बढ़ रहा है।

 

हाफेश्वर का प्राचीन शिव मंदिर फिर डूबा नर्मदा में

जलग्रहण क्षेत्र में अच्छी बारिश के चलते नर्मदा बांध का जल स्तर तेजी से बढ़ रहा है। नर्मदा में पानी बढ़ने पर छोटा उदेपुर का पौराणिक हाफेश्वर मंदिर जलमग्न हो गया। शिवालय के शिखर का सबसे ऊपरी हिस्सा और ध्वजा ही बाहर नजर आ रही है। उल्लेखनीय है कि साल 2004 में डूब क्षेत्र में आने पर हाफेश्वर महादेव मंदिर सहित इस क्षेत्र में पानी आ गया था। जल संकट मंडराने और बांध का जलस्तर कम होने की वजह से 14 साल में पहली बार हाफेश्वर मंदिर नर्मदा की जलराशि से बाहर आया तो लोगों ने शिवालय पर रंग-रोगन कर पूजा-अर्चना शुरू कर दी । शिवालय 40 फीट से अधिक जलराशि से बाहर आ चुका था। हालांकि नर्मदा बांध के जलग्रहण क्षेत्र में गत कुछ दिनों में अच्छी बारिश होने, मध्यप्रदेश के जलाशयों से छोड़े गए पानी के नर्मदा बांध पहुंचने पर बांध का जल स्तर तेजी से बढ़ा है। मंदिर फिर से नर्मदा में डूब गया।

 

24 घंटे में प्रदेश में भारी बारिश होने की संभावना

ओडिशा में सक्रिय लो-प्रेशर और अपर एयर साइक्लोनिक सर्कुलेशन मध्य प्रदेश से होते हुए गुजरात की ओर बढ़ रहा है। इसके असर से अगले 24 घंटे में उत्तर, मध्य और दक्षिण गुजरात में भारी बारिश हो सकती है। जबकि सौराष्ट्र-कच्छ में हल्के छींटे पड़ने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार लो-प्रेशर के असर से मंगलवार को अहमदाबाद समेत प्रदेश के ईडर, गांधीनगर, वल्लभ विद्यानगर, वडोदरा, सूरत, वलसाड़, अमरेली, भावनगर, पोरबंदर, राजकोट और दीव समेत अधिकांश हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हुई। अगले 24 घंटों में अहमदाबाद, गांधीनगर, पंचमहाल, दाहोद, महिसागर, छोटा उदेपुर, वडोदरा, खेड़ा, अरावली, सूरत, डांग, तापी, नवसारी, नर्मदा, भरूच, साबरकांठा, बनासकांठज्ञ, महेसाणा में मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। जबकि सौराष्ट्र के भावनगर सहित कई इलाको में मध्यम बारिश होगी।

 
--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें