--Advertisement--

यूएस ओपन: नवरातिलोवा ने कहा- टेनिस में लैंगिक भेदभाव, लेकिन सेरेना ने फाइनल में गलती की

यूएस ओपन में सेरेना का नौवां फाइनल था, जिसमें तीसरी बार हार का सामना करना पड़ा

DainikBhaskar.com | Sep 11, 2018, 01:10 PM IST

 

यूएस ओपन के फाइनल में सेरेना ने नियमों को तोड़ा था उन पर एक गेम और 12 लाख रुपए का जुर्माना लगा

खेल डेस्क.  चेक गणराज्य की पूर्व टेनिस स्टार मार्टिना नवरातिलोवा का मानना है कि यूएस ओपन के फाइनल में सेरेना विलियम्स ने गलती की। हालांकि, उनका मानना है कि टेनिस में लैंगिक भेदभाव होता है। सभी खेलों में यह होना आम बात है। न्यूयॉर्क टाइम्स में नवरातिलोवा ने लिखा, 'सेरेना ने भेदभाव का मुद्दा उठाया जो कि सही है। लेकिन उन्हें कोर्ट पर इस तरह का व्यवहार नहीं करना चाहिए था।'

अमेरिकी टेनिस एसोसिएशन ने यूएस ओपन के फाइनल में मैच के दौरान कोचिंग लेने, रैकेट पटकने और चेयर अंपायर के साथ बदसलूकी करने के लिए सेरेना विलियम्स पर 12.26 लाख रुपए का जुर्माना लगाया था। नवरातिलोवा ने कहा, "हमें जानना होगा कि खेल का सम्मान करने का सही तरीका क्या है? चेयर अंपायर कार्लोस रामोस के पास अंक काटने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। दोनों एक-दूसरे से बात करते हुए अपना आपा खो रहे थे।"

सेरेना ने अंपायर कार्लोस रेमोस को चोर कहा था: नवरातिलोवा ने कहा, "यह समझना बेहद मुश्किल और बहस के लायक है कि अगर सेरेना पुरुष होतीं तो अंपायर को चोर कहने पर कुछ होता या नहीं।" सेरेना ने मैच के दौरान अंपायर कार्लोस रेमोस को चोर कहा था। उन्होंने फाइनल के बाद कहा था कि मैं बेइमान नहीं हूं। 8 अगस्त को यूएस ओपन के महिला एकल के फाइनल में सेरेना नाओमी ओसाका से हार गईं थीं। सेरेना लगातार दूसरे साल खिताब जीतने से चूक गईं। यूएस ओपन में यह उनका नौवां फाइनल था, जिसमें तीसरी बार हार का सामना करना पड़ा।

--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें