Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

नर्स को मालूम नहीं था कि बच्चे की मां की नजर सिर्फ उसी पर है, लेकिन मां ने उस समय कुछ नहीं कहा

मां ने सोशल मीडिया पर बताई नर्स की कहानी

dainikbhaskar.com | Sep 12, 2018, 08:27 PM IST

(ये कहानी 'सोशल वायरल सीरीज' के तहत है। दुनियाभर में सोशल मीडिया पर ऐसी स्टोरीज वायरल हुईं हैं, जिसे आपको जानना चाहिए।)

 

खबर जरा हटके डेस्क. अमेरिका में रहने वाले एक कपल की बेटी कैंसर के इलाज के लिए हॉस्पिटल में एडमिट थी। कुछ महीने एडमिट रहने के बाद जब वो ठीक हो गई और घर वापस आ गई। तो इसके बाद उसकी मां ने हॉस्पिटल में काम करने वाली नर्सों को थैंक्स देते हुए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखी जो जमकर वायरल हो गई। इस पोस्ट में महिला ने बताया कि हॉस्पिटल में रहने के दौरान नर्सें किस जिम्मेदारी के साथ अपना काम करती हैं, और किस तरह पेशेंट उनकी वजह से ठीक होकर जाते हैं।

 

सोफी के नाम बना दिया फेसबुक पेज

 

- ये स्टोरी शेल्बी और जोनाथन नाम के एक अमेरिकी कपल की है। जिनकी छोटी सी बेटी सोफी की तबीयत कुछ साल पहले काफी ज्यादा खराब हो गई थी। उसके पेरेंट्स जब जांच के लिए सोफी को हॉस्पिटल लेकर गए तो डॉक्टर्स ने उसे एक खास तरह के कैंसर (लिम्फोमा) से पीड़ित बताया।
- कैंसर का पता चलते ही बीमारी को बढ़ने से रोकने के लिए सोफी को कीमोथैरेपी दी गई, लेकिन इसके बाद भी हालत नहीं सुधरी। इस बीमारी की वजह से जल्द ही उसके चलने-फिरने, बोलने, हाथों का इस्तेमाल करने और खाने-पीने की क्षमता प्रभावित हो गई।
- इसके बाद सोफी की हालत सुधारने के लिए डॉक्टर्स ने उसे स्टेम सेल ट्रांसप्लांट थैरेपी देना शुरू कर दिया। इसके लिए उसे कई महीनों तक हॉस्पिटल में ही रहना पड़ा। इस बीच सोफी की मां शेल्बी ने उसकी हालत के बारे में रिश्तेदारों और दोस्तों को बताने के लिए एक फेसबुक पेज बना दिया। जिसका नाम उसने 'सोफी द ब्रेव' रखा।
- पेज बनाने के बाद ही बेटी को लेकर की गई शेल्बी की पोस्ट वायरल होने लगी। दुनियाभर के पेरेंट्स बच्ची की हालत के बारे में जानकर शेल्बी की हौंसलाअफजाई करने लगे।
- कुछ वक्त बाद जब उसकी बेटी ठीक होकर अपने घर आ गई तो शेल्बी ने अपनी एक पोस्ट में हॉस्पिटल में काम करने वाली नर्सों की तारीफ करते हुए उनके कठिन काम के बारे में सबको बताया।

 

पोस्ट में लिखी ये सब बात

 

- बच्ची की देखभाल के लिए हॉस्पिटल के वार्ड में हर वक्त कोई ना कोई नर्स मौजूद रहती थी। नर्सों की वर्किंग स्टाइल और उनकी सेवाभाव ने शेल्बी को खूब प्रभावित किया। अपनी इस पोस्ट में उसने नर्सों के काम करने के तरीके और उनके जिम्मेदारी भरे काम की तारीफ करते हुए लिखा।
- उसने लिखा, 'मैंने आपको हर बच्चे की चिंता और उन्हें प्यार करते हुए देखा है। मैंने देखा आप किस तरह उसके छोटे से सिर पर मारते हो और किस तरह उसे अच्छे से कवर करते हो। मैंने आपको बुरी खबर मिलने पर रोती हुई मम्मियों को संभालते हुए भी देखा है, मैंने आपको उस वक्त बच्चे को गोदी में लेकर कम्प्यूटर पर काम करते हुए भी देखा है, जब उनकी मां हॉस्पिटल में उनके साथ नहीं होती हैं।'
- शेल्बी ने सोफी की रिकवरी को लेकर भी नर्सों को श्रेय दिया। उसने बताया कि किस तरह सभी नर्सें वहां सोफी को देखने आती थीं, फिर भले ही सोफी उनकी पेशेंट हो या नहीं। उसने बताया कि काम का चाहे जितना दबाव हो, नर्सें पेशेंट की परेशानी को दूर करने और उन्हें अच्छा महसूस कराने के लिए हमेशा अपना टाइम देने को तैयार रहती हैं।
- शेल्बी ने लिखा, 'मैंने आपको बच्चों के साथ खेलते और उनसे खिलौना गन को छुपाते हुए देखा है, मैंने आपको बच्चों के छोटे से हाथ को पकड़ते, गंदी चादरें बदलते, पेरेंट्स को आसान भाषा में मेडिकल बातचीत समझाते हुए और कठिन वक्त में खुद की आंखों को पोंछते हुए भी देखा है। मैंने आपको मेरी बच्ची को ग्लव्स, मास्क और गाउन पहनाने के बाद शांत खड़े हुए भी देखा है।'

 

नर्सों को बताया ईश्वर की तरह

 

- 'आप हर दिन हमारे लिए जीसस की तरह रहे। आपके बिना हमारे बच्चों को वो चीज नहीं मिल पाती, जिसकी उन्हें जरूरत रहती है। मेरे जैसी मांएं आपके बिना कभी मानसिक रूप से स्वस्थ महसूस नहीं कर सकतीं। आपने हमारे बच्चों की जान बचाई है और हम आपके बिना ऐसा कभी नहीं कर सकते थे।'
- इस पोस्ट को लिखने के बाद ही शेल्बी की ये फेसबुक पोस्ट काफी वायरल हो गई। कुछ ही घंटो में इसे 2500 से ज्यादा शेयर मिल गए, साथ ही इस पर 48 हजार से ज्यादा रिएक्शन भी आ गए।
- उसकी इस पोस्ट ने नर्सों के दिल को भी छू लिया। अपने पेशे के लिए इतना सम्मान और प्यार भरे शब्द पाकर नर्सें की खुशी का भी ठिकाना नहीं रहा। उस दिन के बाद उन्हें अपने पेशे से और भी ज्यादा प्यार हो गया।
- इलाज के दौरान नर्सों ने शेल्बी की बच्ची और हॉस्पिटल में एडमिट अन्य बच्चों की देखभाल के लिए जो कुछ भी किया, उन्हें किसी भी शब्दों में नहीं बताया जा सकता। लेकिन फिर भी शेल्बी ने उनके काम को अपने शब्दों के जरिए बताने की कोशिश की जो काफी सफल रही।

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें