Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी दोस्त से ज्यादा डरना चाहिए, जानवर सिर्फ शरीर को नुकसान पहुंचाता है, लेकिन बुरा मित्र बुद्धि को नुकसान पहुंचा सकता है

dainikbhaskar.com | Jun 29, 2018, 04:47 PM IST

गौतम बुद्ध द्वारा बताई गईं 10 बातें ध्यान रखेंगे तो आपके सभी दुख दूर हो सकते हैं...

-- पूरी ख़बर पढ़ें --

रिलिजन डेस्क। बौद्ध धर्म के संस्थापक गौतम बुद्ध द्वारा बताए गए उपदेशों का ध्यान रखने पर हम कई परेशानियों से और दुखों से बच सकते हैं। गौतम बुद्ध के उपदेशों के कारण ही बौद्ध धर्म प्रचलित हुआ है। उनका जन्म लुंबिनी में शाक्य कुल के राजा शुद्धोधन के यहां हुआ था। उनकी मां का नाम महामाया था, जो कि कोलीय वंश से थी। प्रारंभिक नाम सिद्धार्थ था। इनका विवाह यशोधरा के साथ हुआ था। उन्होंने ज्ञान प्राप्ति के लिए अपने पुत्र राहुल और यशोधरा को छोड़ दिया था। जानिए गौतम बुद्ध के 10 प्रचलित उपदेश...

1. किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी दोस्त से ज्यादा डरना चाहिए। जानवर सिर्फ शरीर को नुकसान पहुंचाता है, लेकिन बुरा मित्र बुद्धि को नुकसान पहुंचा सकता है।

2. सभी गलत काम मन से ही उपजते हैं। अगर मन को काबू कर लिया जाए तो हम गलत कामों से बच सकते हैं।

3. घृणा करने से घृणा कम नहीं होती, बल्कि प्रेम से कम होती है।

4. हमें क्रोध के लिए दंड नहीं मिलता है, बल्कि अपने क्रोध से ही हमें दंड मिलता है।

5. हजारों खोखले शब्दों से अच्छा वह एक शब्द है जो हमारे जीवन में शांति लेकर आए।

6. अच्छा स्वास्थ्य ही सबसे बड़ा उपहार है। संतोष ही सबसे बड़ा धन है। वफादारी सबसे बड़ा संबंध है।

7. बीते हुए समय पर ध्यान केंद्रित नहीं करना चाहिए। भविष्य का सपना भी नहीं देखना चाहिए। हमें पूरा ध्यान सिर्फ वर्तमान पर ही रखना चाहिए।

8. वह व्यक्ति जो 50 लोगों को प्यार करता है, 50 दुखों से घिरा रहता है। जो व्यक्ति किसी से भी प्रेम नहीं करता है, उसके जीवन में कोई संकट नहीं होता है।

9. क्रोधित रहना, ठीक उसी प्रकार है जैसे किसी और फेंकने के लिए एक गर्म कोयला अपने हाथ में रखना। ये हमें ही जलाता है।

10. अगर आप खुद से प्रेम करते हैं तो कभी भी दूसरों को दुख नहीं देना चाहिए।