Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

एसी एसटी एक्ट का विरोध : करणी सेना ने सिंधिया के काफिले को रोक दिखाए काले झंड़े, लगाए मुर्दाबाद के नारे

dainikbhaskar.com | Sep 11, 2018, 03:06 PM IST

नागदा से जावरा जाते समय टोल नाके के पास करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने किया विरोध

-- पूरी ख़बर पढ़ें --

रतलाम.मप्र में एसी-एसटीकाविरोधलगातार जारी है। कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टियों के नेताओं को विरोध का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार कोपूर्व मंत्री स्व. महेंद्र सिंह कालूखेड़ा के प्रथम पुण्य स्मरण में शामिल हाेने जा रहे मप्र कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष एवं सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को विरोध का सामना करना पड़ा।करणीसेना ने उनके काफिले को रोककर काले झंडे दिखाए औरमुर्दाबाद के नारे लगाए। सिंधिया को कार्यकर्ताओं ने जद्दोजहद के बादयहां से रवाना किया।

मिली जानकारीअनुसार सिंधिया मंगलवार कोपूर्व मंत्री स्व. महेंद्र सिंह कालूखेड़ा के प्रथम पुण्य स्मरण में शामिल होने नागदा से जावरा के लिए रवाना हुए थे। रतलाम के आगे टोल के पास जैसे ही उनका काफिला पहुंचा, यहां सैकड़ों की संख्या में सड़क किनारे खड़े करणी सेना के कार्यकर्ताअों ने मुर्दाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। टोल के पास जैसे ही कार की स्पीड कम हुई, कार्यकर्ताओं ने सिंधिया की गाड़ी को घेर लिया और कालेझंडेदिखातेहुए कांग्रेस पार्टी मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। करणी सेना के विरोध को देखते हुए कांग्रेसी कार्यकर्तासिंधिया के काफिले को निकालने में जुट गए। कुछदेर की जद्दोजहद के बाद जैसे-तैसे काफिले को वहां से रवाना किया गया। करणीसेना का कहना था कि दोनों ही पार्टियांहमारे अधिकार को छीनने कीकोशिश कर रही हैं,हमऐसा नहीं होने देंगे,हमारा विरोधलगातार जारीरहेगा।

कालूखेड़ा कीमूर्ति का अनावरण किया

सिंधिया ने नागदा के रास्ते जावरापहुंचे और मुख्य चौराहे पर पूर्व मंत्री स्वर्गीय महेंद्रसिंह कालूखेड़ा की मूर्ति के अनावरण के बाद कालूखेड़ा उपमंडी प्रांगण में सभा को संबोधित किया।इस दौरानसिंधिया ने देश और प्रदेश की भाजपा सरकारको जमकर कोसा। उन्होंने कहा किसरकार की नीतियों के चलते ही पेट्रोल के भाव आसमान छू रहे हैं। सरकार जनताको राहतदेनेकी कोई कोशिश नहींकर रही है।इस दौरान उन्होंने स्वर्गीय महेंद्र सिंह कालूखेड़ा के जीवन आदर्शों पर लिखी गई पुस्तक का विमोचन भी किया। इस मौके पर रक्तदान शिविर का आयोजन भी किया गया, जिसमें बड़ी संख्या में कांग्रेसियों ने रक्तदान किया।