Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

पत्नी ने मोबाइल चेक किया, तो पति की प्रेम लीला का फूटा भांडा

Dainikbhaskar.com | Sep 03, 2018, 01:52 PM IST

उद्योगपति ने दोस्त की पत्नी को नौकरी पर रखकर रचाई रासलीला, अब वैवाहिक जीवन में आई दरार।

प्रतीकात्मक तस्वीर
-- पूरी ख़बर पढ़ें --

राजकोट। शादी के दस साल बाद दो संतानों के पिता और उद्योगपति ने अपने ही यहां नौकरी करने वाली दोस्त के साथ प्यार का चक्कर चला रहा था। इसका पता तब चला जब पत्नी ने पति का मोबाइल चेक किया। पति की पोल खुलने के बाद अब उनके दाम्पत्य जीवन में दरार आ गई है। पत्नी ने अदालत का दरवाजा खटखटाया है। खूबसूरत महिला ने लाया जीवन में मोड़…

शहर के एक उद्योगपति रमेश भाई जिसका टर्नओवहर लाखों में है, की शादी रीना के साथ भारतीय परंपरा के अनुसार दसा साल पहले हुआ था। इस दौरान उनके दो बेटियां हुई। इसके बाद रमेश भाई के जीवन में एक मोड़ आया, जिसमें वे अपने दोस्त की पत्नी को अपने यहां नौकरी पर रखा, पर कुछ ही दिनों बाद वह उसके प्यार की गिरफ्त में आ गया। इसके बाद रमेश को जब भी बिजनेस टूर पर जाना होता, तो वह दोस्त की खूबसूरत पत्नी को ही ले जाता। इससे रमेश भाई का ध्यान घर की तरफ कम होने लगा। एक दिन पत्नी रीना ने पति का मोबाइल फोन चेक किया, जिससे पता चला कि वह दोस्त की खूबसूरत पत्नी के प्यार की गिरफ्त में है। इससे दोनों के दाम्पत्य जीवन में दरार आ गई।

पत्नी ने खटखटाया अदालत का दरवाजा

पति की प्रेमलीला का भांडा फूटते ही दोनों के बीच विवाद होने लगा। इससे रीना अपनी दो बेटियों को लेकर मायके चली गई। अब उसने अपने और बेटियों के भरण-पोषण के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया है। अब अदालत बहुत ही जल्द इस मामले की सुनवाई करेगी।

CRPC के तहत ये प्रावधान है

विवाहिता को यह अधिकार है कि वह अपनी संतानों के भरण-पोषण के लिए पति से मुआवजा ले सकती है। संतान की जितनी जवाबदारी मां की है, उतनी ही उनके पिता की भी होती है। इन हालात में पति या पिता को अदालत के आदेश के पहले यह जवाबदारी उठा लेनी चाहिए। एेसा CRPC में प्रावधान है।