Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

सोलन में 25 किलो टमाटर की रैक सौ से ढाई सौ रुपये में

बाहरी राज्यों में मांग कम होने से गिरे सोलन में टमाटर के दाम

Bhaskar News | Sep 07, 2018, 06:44 AM IST

सोलन
उत्तरी भारत की मंडियों में बंगलुरू व महाराष्ट्र के औरंगाबाद व नासिक का टमाटर आ जाने का असर सोलन जिला की प्रमुख नकदी फसल टमाटर पर पड़ा है। सोलन मंडी में आजकल टमाटर पर मंदी की मार है। सोलन मंडी में टमाटर 4 रुपए से 10 रुपए प्रति किग्रा बिक रहा है। दाम गिरने से इससे फसल तैयार करने पर आई लागत तक पूरी नहीं हो पा रही है। इसी फसल के सहारे वर्षभर की रोजी रोटी चलाने वाले किसानों के सामने परिवार का पेट पालने का संकट खड़ा हो गया है। सोलन मंडी में प्रतिदिन 5 हजार क्रेट टमाटर आ रहे है। अब तक सोलन मंडी में पहुंचे 6 लाख क्रेट टमाटर पहुंच चुके हैं।


पिछले साल 1200 रुपए थे, इस बार 200 में बिक रही क्रेट
पिछले वर्ष टमाटर के दाम किसानों को काफी अच्छे मिले थे। टमाटर उत्पादन वीरेंद्र ठाकुर, अनिल व जयपाल ने बताया कि पिछले वर्ष आजकल टमाटर के दाम प्रति क्रेट 1200 थे, इस बार उन्हें 200 रुपए में क्रेट बेचनी पड़ रही है। इससे उन्हें भारी आर्थिक नुकसान हो रहा है। इस बार स्थिति इसके विपरीत है। सोलन मंडी में टमाटर के भाव 4 से 10 रुपए प्रतिकिलो तक भी मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि टमाटर के भाव गिरने से किसानों की इस पर आई लागत भी पूरी नहीं हो पा रही है। टमाटर उगाने व इसे मंडी तक पहुंचाने में करीब 10-12 रुपए लागत आती है। पिछली बार सभी को टमाटर के अच्छे दाम मिले थे। इस बार लागत भी पूरी नहीं हो पा रही है। ऊपर से टमाटर में प्रयोग होने वाली दवाइयां भी हर साल मंहगी होती जा रही हैं।
मंदी की मार
100 से 250 रुपए तक बिक रही है 25 किलोग्राम की क्रेट, 5 हजार क्रेट आ रहे है प्रतिदिन
सोलन सब्जी मंडी में बिक्री के लिए पहुंचा टमाटर।
क्यों आई टमाटर के दामों में गिरावट|सोलन सब्जी मंडी में टमाटर का कारोबार करने वाले आढ़ती अमर सिंह ठाकुर ने बताया कि उत्तरी भारत की मंडियों में बंगलुरू, आंध्रप्रदेश, औरंगाबाद व नासिक का टमाटर चंडीगढ़ तक पहुंच गया है। यह टमाटर हिमाचल के टमाटर से भी सस्ता बिक रहा है। इससे राज्य के टमाटर के दाम गिर गए हैं। उन्होंने बताया कि सोलन मंडी में 25 किलो टमाटर की क्रेट 100 रुपए से लेकर 250 रुपए क्रेट तक बिक रहा था। अब भी दाम बढ़ते हैं तो किसानों की जो थोड़ी-बहुत फसल बची है उसके दाम अच्छे मिल जाएंगे और कुछ हद तक नुकसान की भरपाई हो सकेगी।
बाहरी राज्यों में टमाटर की मांग कम होने के कारण इसके दाम किसानों को काफी कम मिल पा रहे हैं। सोलन मंडी में 5 हजार क्रेट टमाटर प्रतिदिन पहुंच रहा है। सोलन सब्जी मंडी में अब तक 6 लाख क्रेट टमाटर बिक्री के लिए पहुंच चुका है। प्रकाश कश्यप, सचिव मार्किट कमेटी सोलन
Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें