--Advertisement--

सत्संग में ले जाने के बहाने महिला से दुष्कर्म, पति के मौसेरे भाई पर भी फायदा उठाने का आरोप

पीड़ित महिला हरियाणा के पानीपत की रहने वाली है। 27 अगस्त को वह पंजाब के रोहान गांव में सत्संग के लिए गई थी।

dainikbhaskar.com | Sep 08, 2018, 12:59 PM IST

पटियाला। हरियाणा की एक महिला के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। मामला कई दिन पुराना है, लेकिन अब हरियाणा पुलिस ने पीड़िता की शिकायत दर्ज करते हुए मामला यहां पटियाला रेफर किया है। पीड़िता का आरोप है कि वह सत्संग के लिए यहां जिले के गांव रोहान में आई थी। उसी दौरान एक सत्संगी ने अपने साथी के साथ मिलकर नशा पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। फिर एक परिचित को और इस घटना के बारे में बताया तो उसने भी उसकी मजबूरी का नाजायज फायदा उठा उसके साथ दुष्कर्म किया। बहरहाल मामले की जांच जारी है।

 

 

कोल्ड ड्रिंक पीते ही हो गई बेहाेश तो किया दुष्कर्म

पीड़ित महिला हरियाणा के पानीपत की रहने वाली है। पुलिस को दी शिकायत में उसने बताया कि 27 अगस्त को वह पंजाब के रोहान गांव में सत्संग के लिए गई थी। उसने ये बात पति को भी बताई थी। उसकी अपने सत्संगी भाई सुखपाल से फोन पर बात हुई कि वह मुझे सत्संग में ले जाएंगे। वह पानीपत से कैथल के लिए बस में बैठ गई। कैथल पहुंचने पर सुखपाल का मौसेरा भाई मोटरसाइकिल पर उसे लेने आ गया। दोनों सुखपाल के गांव अरनो के लिए निकले, लेकिन वह वहां न जाकर पातड़ां के गांव शुतराणा ले आया। उसने कहा कि अरनो में सुखपाल के घर पर कोई नहीं है। सुखपाल की मम्मी भी शुतराणा गई है। जब वहां पहुंची तो घर में कोई महिला नहीं, बल्कि सुखपाल के दो मौसेरे भाई मौजूद थे। उन्होंने उसे कोल्ड ड्रिंक पीने को दिया, जिसे पीते ही वह बेहोश हो गई। आरोप है कि बेहोशी की हालत में उन्होंने दुष्कर्म किया।

 

 

सत्संगी के मौसेरे भाई ने भी किया शोषण

इसके बाद सुखपाल ने अपनी मौसी के लड़के को उसे पटियाला बस स्टैंड से पानीपत की बस में बिठाने को कहा। उसकी मौसी का लड़का पटियाला बस स्टैंड की बजाय अपने किसी दोस्त के पीजी ले गया और वहां छोड़कर चला गया। पीजी में अमितोष नामक युवक ने उससे दुष्कर्म किया। अगले दिन सुबह छह बजे आरोपी ने उसे बस स्टैंड छोड़ा।

 

 

पैसे कम पड़े तो अंबाला पहुंची, फिर रिश्तेदार ऊना ले गया

पीड़िता की मानें तो पैसे कम होने के कारण पानीपत की जगह अंबाला की टिकट ली और अंबाला पहुंचकर अपने पति को फोन किया। पति का फोन न लगने पर उसने पति के मौसेरे भाई दीपक को फोन किया और पैसे न होने की बात कही। दीपक अंबाला बस अड्डे पहुंचा तो उसको ऊना शहर कुछ काम हाेने की बात कही और व‍हां से आकर उसे ट्रेन से पानीपत ले जाने की बात की। महिला के मुताबिक दीपक उसे ऊना ले गया जहां काम के दौरान रात हो गई और वे वहीं रुक गए। इसी दौरान महिल ने दीपक को अपने साथ हुई वारदात के बारे में बताया। उसकी आपबीती सुनकर दीपक ने भी मजबूरी का फायदा उठा उससे जबरदस्ती की और किसी को कुछ न बताने को कहा।

 

 

पता चला तो ले गए मायके वाले, पति के कहने पर कराई एफआईआर

अगले दिन वो सुबह पांच बजे की ट्रेन से पानीपत पहुंचे। घर पर पति के न होने कारण पीड़िता ने फोन पर अपने माता-पिता को आपबीती सुनाई। इसके बाद वो उसे अपने साथ ले गए। अगले दिन पति वापस लौटा तो उन्हें सारी बात बताई। पीड़िता पति के कहने पर 2 सितंबर को हरियाणा के कैथल के वूमैन सेल में उसने रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद मुख्य आरोपी के पंजाब के पातड़ां के गांव अरनो का निवासी होने कारण कैथल पुलिस ने जीरो नंबर एफआइआर दर्ज कर मामला पटियाला के एसएसपी को भेज दिया। पातड़ां पुलिस ने मुख्य आरोपी सुखपाल, उसके साथी सिमर गिल पटियाला पीजी में रहने वाले अमितोष और चौथे आरोपित पीड़िता के पति के मौसेरे भाई दीपक चारों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया है।

--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें