फैक्ट चेक / शीशम पेड़ के पत्ते से कैंसर ठीक होने के दावे पर विशेषज्ञ डॉक्टर ने कहा, इस बात का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं

  • क्या वायरल : शीशम के पत्ते का जूस पीने से कैंसर ठीक हो जाता है
  • क्या सच : इसकी कोई वैज्ञानिक पुष्टि नहीं। इसे लेकर कोई स्टडी भी नहीं की गई। डॉ ने कहा, चमत्कार हो तो बात अलग

Dainik Bhaskar

Jul 20, 2019, 03:37 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इसमें शीशम के पत्तों को चबाने से कैंसर ठीक होने का दावा किया जा रहा है। दैनिक भास्कर प्लस एप के एक पाठक ने यह खबर हमें भेज और इसकी सत्यता जाननी चाही। हमने इस दावे की सत्यता जानने के लिए इंदौर के कैंसर स्पेशलिस्ट डॉ. आलोक मोदी और पं. खुशीलाल शर्मा शासकीय (स्वशासी) आयुर्वेद महाविद्यालय एवं संस्थान भोपाल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. एनके प्रसाद से बात की। जानिए यह दावा कितना सही है।

क्या वायरल

  • सोशल मीडिया में एक पर्चा वायरल हो रहा है। इसमें लिखा है कि आपके किसी परिचित को कैंसर है तो उसकी जो दवाएं चल रही हैं, वे चलने दें और साथ में शीशम के पत्तों का जूस भी 10-15 दिनों तक लें।

  • वायरल पोस्ट के मुताबिक, शीशम के पत्ते को हर रोज चबाएं। इससे कैंसर के मरीज के अंदर बदलाव दिखने लगेगा और यह बीमारी खत्म हो जाएगी।इसमें नीचे डॉ अनीश गर्ग, चंडीगढ़ का नाम लिखा है लेकिन उनका कोई संपर्क नंबर नहीं दिया गया। इसे सभी ग्रुप में भेजने की अपील की जा रही है।
  • दरअसल शीशम को आयुर्वेद में जड़ी-बूटी के रूप में प्रयोग किया जाता है। इससे निकलने वाला चिपचिपा पदार्थ कई रोगों के उपचार में इस्तेमाल किया जाता है।
  • इसके तेल को दर्दनाक, अवसादरोधी, सड़न रोकने वाले, जीवाणु रोधक, कीटनाशक और स्फूर्तिदायक आदि के तौर पर भी प्रयोग में लिया जाता है।

क्या है सच्चाई

  • कैंसर स्पेशलिस्ट डॉ. आलोक मोदी (इंदौर) ने बताया कि शीशम से कैंसर ठीक होने का कोई वैज्ञानिक तथ्य नहीं है। कैंसर ठीक करने के लिए लोग तरह-तरह की चीजें लेने की सलाह देते हैं। कोई कहता है ज्वार का जूस लो तो कोई कहता है शीशम का। ये फायदा पहुंचाते हैं या नहीं, इसकी कोई वैज्ञानिक पुष्टि नहीं है।
  • डॉ मोदी के मुताबिक, कैंसर की दवाओं के साथ कोई चाहे तो इन्हें ले सकता है क्योंकि शीशम के पत्त चबाने से कोई नुकसान तो नहीं होगा। हो सकता है कि कोई चमत्कार हो जाए।
  • पं. खुशीलाल शर्मा शासकीय (स्वशासी) आयुर्वेद महाविद्यालय एवं संस्थान भोपाल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. एनके प्रसाद ने बताया कि आयुर्वेद में भी इसे लेकर कोई शोध नहीं हुआ। शीशम से कैंसर ठीक हो, इसका कोई प्रमाण नहीं।
  • इससे साबित होता है कि यह शीशम से कैंसर ठीक होने की बात अप्रमाणिक है।
Share
Next Story

फैक्ट चेक / राहुल गांधी ने असम-बिहार की 6 साल पुरानी तस्वीर शेयर की, पता चलने पर ट्वीट कर दिया डिलीट

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News