फैक्ट चेक / जियो ने नहीं दिया 3 महीने फ्री रिचार्ज का ऑफर, आपकी डिटेल्स चुराने के लिए वायरल हो रहा फेक मैसेज

  • क्या वायरल : जियो अपने सभी यूजर को 399 रुपए का रिचार्ज फ्री दे रहा है। आप सभी को मिलेगा 399 रुपए का रिचार्ज पैक फ्री और डेली 2जीबी फ्री। पूरे 3 महीने के लिए फ्री
  • क्या सच : जियो ने ऐसा कोई ऑफर नहीं दिया। ऐसे मैसेज यूजर की निजी जानकारी हासिल करने के लिए वायरल किए जा रहे हैं। जियो आधिकारिक वेबसाइट पर ही कोई भी डिटेल जारी करता है

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2019, 03:59 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. क्या आपको भी ऐसा कोई मैसेज या कॉल रिकॉर्डिंग मिली है, जिसमें जियो का 399 रुपए का रिचार्ज तीन महीने के लिए फ्री देने की बात कही गई है? यदि आपको ऐसा मैसेज मिला हो तो इस पर यकीन न करें। यह एक फेक मैसेज है जो काफी दिनों से सोशल मीडिया में वायरल किया जा रहा है। एक पाठक ने हमें यह पुष्टि के लिए भेजा। पड़ताल में इसका पूरा सच सामने आया।

क्या वायरल

  • मुकेश अंबानी की फोटो के साथ एक इसे वायरल किया जा रहा है।

  • वायरल टेम्पलेट में लिखा है कि 'जियो अपने सभी यूजर को 399 रुपए का रिचार्ज फ्री दे रहा है। आप सभी को मिलेगा 399 रुपए का रिचार्ज पैक फ्री और डेली 2जीबी फ्री। पूरे 3 महीने के लिए फ्री। जल्द रिचार्ज करें ऑफर सीमित समय के लिए।'
  • कई यूट्यूब चैनल्स भी यह ऑफर जियो का बता रहे हैं।

क्या है सच्चाई

  • पड़ताल करने पर पता चला कि सोशल मीडिया में वायरल हो रही अधिकतर लिंक्स फेक हैं और यह यूजर की पर्सनल डिटेल जैसे नाम, मोबाइल नंबर आदि फॉर्म में फिल करवाती हैं।
  • पूरी जानकारी भरने के बाद यूजर से इस लिंक को 10 लोगों को वॉट्सऐप करने के लिए कहा जाता है।
  • यदि आप यह जानकारी सबमिट करते हैं तो आपको दो तरह से नुकसान हो सकता है।
  • पहले तो यह कि इस तरह की साइट आपकी कॉन्टेक्ट इंफॉर्मेशन को टेलीमार्केटिंग कम्पनीज को बेच सकती हैं। यह वो कंपनियां होती हैं जो लोगों को क्रेडिट कार्ड, लोन और दूसरे ऑफर के लिए लगातार फोन करती हैं।
  • दूसरा यह कि ऐसी साइट आपकी पर्सनल डिटेल्स चुरा सकती हैं। बैंकिंग या क्रेडिट, डेबिट कार्ड फ्रॉड में इसका दुरुपयोग किया जा सकता है।
  • जियो ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट में इस तरह की कोई डिटेल नहीं दी। जियो प्रवक्ता के अनुसार, कंपनी जो भी ऑफर देती है, उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर ही जारी किया जाता है।
  • एक्सपर्ट कहते हैं कि, इस तरह के मैसेज को अवॉइड करना चाहिए और इनसे कोई जानकारी शेयर नहीं करना चाहिए। कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट पर आने वाली जानकारी पर ही यकीन करें।
Share
Next Story

फैक्ट चेक / सोशल मीडिया में वायरल - पुलिस 15 दिन चालान नहीं बनाएगी, ट्रैफिक डीसीपी ने भास्कर से कहा- यह जानकारी गलत

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News