फैक्ट चेक / सोशल मीडिया में वायरल - पुलिस 15 दिन चालान नहीं बनाएगी, ट्रैफिक डीसीपी ने भास्कर से कहा- यह जानकारी गलत

  • क्या वायरल : हरियाणा से जुड़ा एक मैसेज देशभर में वायरल हो रहा है। इसमें लिखा है कि, कुछ दिन चालान काटने के बजाए पुलिस वाहन चालकों को जागरुक करने का काम करेगी
  • क्या सच : ट्रैफिक डीसीपी बोले, चालानी कार्रवाई जारी रहेगी। कार्रवाई रोकने की कोई बात पुलिस द्वारा नहीं कही गई

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2019, 01:46 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. नए मोटर व्हीकल एक्ट के लागू होने के बाद से ही यह चर्चा में बना हुआ है। कभी चालान की राशि को लेकर तो कभी पुलिस की सख्त कार्रवाई को लेकर। अब सोशल मीडिया में एक मैसेज वायरल किया जा रहा है। इसमें लिखा है कि कुछ दिन पुलिस चालान काटने के बजाए चालकों को जागरुक करने का काम करेगी। हमने इस खबर की पुष्टि के लिए डीसीपी ट्रैफिक से बात की। उन्होंने बताया कि कार्रवाई रोके जाने की खबर गलत है। नए एक्ट के हिसाब से कार्रवाई जारी रहेगी।

क्या वायरल

  • सोशल मीडिया में जो मैसेज वायरल किया जा रहा है, वह हरियाणा को लेकर है।
  • यहां न्यूज 18 द्वारा 8 सितंबर को खबर लगाई गई थी, जिसका शीर्षक था 'बैकफुट पर ट्रैफिक पुलिस, इस राज्‍य में इतने दिन नहीं कटेंगे वाहनों के चालान!'

  • इसी टेम्पलेट को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया गया। इससे यह दूसरे राज्यों तक भी पहुंच गया। सोशल मीडिया में सिर्फ टेम्पलेट वायरल किया जा रहा है।
  • इसलिए लोगों को लग रहा है कि पुलिस 15 दिनों तक चालानी कार्रवाई नहीं करेगी।

क्या है सच्चाई

  • इस खबर की सच्चाई के लिए हमने सीधे उसी क्षेत्र के अधिकारी से बात की, जहां से यह खबर प्रकाशित की गई।
  • खबर गुरूग्राम से लिखी गई है इसलिए हमने गुरुग्राम के ट्रैफिक डीसीपी हिमांशु गर्ग से बात की।
  • उन्होंने बताया कि, पुलिस ने कार्रवाई रोकने जैसी कोई बात नहीं की। नए एक्ट के हिसाब से कार्रवाई जारी रहेगी। हम कार्रवाई करने के साथ ही लोगों को अवेयर भी कर रहे हैं।
  • न्यूज 18 ने भी अपनी खबर में जिस पुलिस अधिकारी का वर्जन कोट किया है, उन्होंने स्पष्ट कहा है कि, ऐसा नहीं है कि हमने चालान काटना बंद कर दिया है।
  • इससे यह स्पष्ट होता है कि सोशल मीडिया का दावा पूरी तरह से गलत है।
Share
Next Story

फैक्ट चेक / पीएम ने दो मौकों पर इसरो चीफ को बंधाया था ढांढस, कैमरा देखकर रिएक्शन देने वाला वायरल दावा गलत

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News