Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

वारदात / खुला डांसर सपना की हत्या का राज, पैसे नहीं मिलने पर डांस से इनकार किया तो किया था सिर कलम

  • 16 अप्रैल को बठिंडा-सिरसा रेलवे लाइन के नीचे सूखे रजवाहे में पहले धड़ तो एक किलोमीटर दूरसिर मिला था
  • पुलिस ने 24 घंटे में बंधक बनाने और कत्ल केआरोपी सुखविंदर सिंह सुक्खा को पूजा व मनप्रीत सिंह मीत समेत किया गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2019, 02:51 PM IST

बठिंडा. बठिंडा में तीन दिन पहले सिर काटकर किए गए डांसर सपना के ब्लाइंड मर्डर को जीआरपी और जिला पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन के बाद सुलझा लिया है। इस वारदात की मास्टरमाइंड समेत तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक कमाई के पैसे नहीं मिलने पर ऑर्केस्ट्रा डांसर सपना ने नाचने से मना कर दिया था। वह यह धंधा ही छोड़ना चाहती थी और इसी रंजिश में उसकी हत्या कर दी गई। उधर मृतका की मां का कहना था कि आरोपी उसकी बेटी गलत काम करवाते थे और उसे चिट्टे की लत लगा दी थी। जब वह मिलने जाते थे तो उन्हें जान से मारने की धमकियां देते थे।

एसएसपी डाॅ. नानक सिंह के मुताबिक 16 अप्रैल को बठिंडा-सिरसा रेलवे लाइन (बैक साइड साईं नगर) के नीचे से गुजरते जोधपुरा-रोमाणा के सूखे रजवाहे से एक लड़की की सिर कटी लाश मिली थी। सहारा जनसेवा के वर्कर संदीप की सूचना पर पुलिस ने जांच की तो उस रजवाहे में ही एक किलोमीटर दूरी पर लड़की का सिर भी मिल गया। घटनास्थल जीआरपी का होने के कारण पुलिस ने सहारा वर्कर संदीप गिल के बयान के आधार पर अज्ञात लोगों पर हत्या का केस दर्ज करके केस को ट्रेस करने के लिए जीआरपी इंस्पेक्टर कुशवंत सिंह और डीएसपी डी जसपिंदर सिंह के नेतृत्व में दो अलग-अलग टीमें बनाई।

एसएसपी ने बताया कि जीआरपी और जिला पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन के बाद पुलिस ने चौबीस घंटे में अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाते हुए आरोपी सुखविंदर सिंह सुक्खा, पूजा और मनप्रीत सिंह मीत को गिरफ्तार कर लिया और आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। एसएसपी ने आरोपियों की ओर से सपना को देहव्यापार का धंधा करवाने के आरोपों से इनकार किया है। सुक्खा पर अलग-अलग थाने में 7 लूटपाट, चोरी, झगड़े और अवैध असला रखने के मामले दर्ज हैं।

वहीं डीएसपी डी जसपिंदर सिंह ने बताया कि सुखविंदर सिंह सुक्खा और उसकी दोस्त पूनम उर्फ पूजा आर्केस्ट्रा चलाते थे। पूजा तीन साल पहले सपना को अपने साथ ले गई थी, तब सपना की उम्र 16 साल की थी। पूजा ने सपना को डांस सिखाया और आर्केस्ट्रा लाइन में डाल दिया। पिछले कुछ समय से सुक्खा, पूजा और मनप्रीत सिंह सपना को प्रोग्राम में डांस के लिए ले जाते थे और प्रोग्राम के बाद सपना की कमाई के पैसे उसे नहीं देते थे। पिछले कई दिनों से सपना ने डांस करने से इनकार कर दिया था वो कई प्रोग्राम करने भी नहीं गई। उसने ये काम छोड़ने की बात कही तो कमाई का रास्ता बंद होने से पूजा ने सुक्खा से मिलकर सपना की हत्या का प्लान बनाया।

15 अप्रैल को पहले सुक्खा, मनप्रीत बौर सपना ने शराब पी। जब वो बेहोश हो गई तो सुक्खा और मनप्रीत मीत रात 10 बजे के करीब मोटरसाइकिल में बीच में बिठाकर जोधपुर-रोमाणा वाले रजवाहे में ले गए। यहां सुक्खा ने कापे से पहले सपना का सिर धड़ से अलग कर दिया और उसके बाद कापे से ही उसका पहना हुआ सूट काट दिया और नग्न धड़ को रेलवे लाइन के नीचे से निकलते सूखे रजवाहे में फेंक दिया और सिर को इसी रजवाहे में एक किलोमीटर दूरी पर फेंकने के बाद फरार हो गए।

मां के आंसू नहीं थम रहे, बोली-हत्यारों को फांसी दो
डांसर सपना की हत्या के बारे में उसके माता-पिता को गुरुवार को पता चला। अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद बेटी की लाश लेने पहुंची मां रोशनी देवी और पिता महेश कुमार का रो-रोकर बुरा हाल था। कैंट में दर्जा चार कर्मचारी के तौर पर नौकरी करने वाली रोशनी देवी ने कहा कि जैसे आरोपियों ने उसकी इकलौती बेटी को काटकर मार डाला उसी तरह इन्हें भी काट दिया जाए, उसने कहा कि जब तक आरोपियों को फांसी की सजा नहीं मिलती उसे चेन नहीं मिलेगा।

Share
Next Story

राजनीति / बादल पिता-पुत्र के खिलाफ 5 बार मैदान में उतरे जगमीत सिंह बराड़ हुए अकाली दल में शामिल

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News