Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

ब्यावर/ नतीजों के बाद नारेबाजी के दौरान दो पक्षों में विवाद, बाजार हुए बंद

हंगामा करते लोग।

  • शहर में तनाव, पुलिस ने संभाली स्थिति, सदर, सिटी समेत अन्य थानों का बल तैनात, असामाजिक तत्वों की पहचान में जुटी पुलिस 

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2018, 05:16 AM IST

ब्यावर. शहर के लौहारान चौपड़ के समीप जामा मस्जिद क्षेत्र में मंगलवार को कुछ युवकों की ओर से की गई नारेबाजी के चलते दो पक्षों में विवाद हो गया। इस दौरान हुई मारपीट में दो युवक घायल हो गए। विवाद की स्थित उत्पन्न होने पर पाली बाजार स्थित दुकानें बंद हो गई। इसके साथ हो मौके पर दोनों पक्षों के लोग एकत्रित होने लगे। विवाद की जानकारी मिलने पर पुलिस अफसर और आरएसी के जवान मौके पर पहुंचे। इसके बाद स्थिति पर काबू पाया गया।

 
मंगलवार शाम को लौहारान चौपड़ के समीप जामा मस्जिद क्षेत्र में लगभग 15 से 20 युवक मोटरसाइकिल पर पहुंचे और नारेबाजी करने लगे। इसके साथ ही उन लोगों ने वहां पर मौजूद लोगों के साथ अभद्रता करनी शुरु कर दी। जिसके चलते जिसका वहां पर मौजूद लोगों ने विरोध जताया। आरोप है कि युवक नारेबाजी करने से बाज नहीं आए और उनके साथ गाली-गलौज करने लगे। इससे गुस्साए क्षेत्रवासियों ने नारेबाजी कर रहे युवकों की पिटाई कर दी। इस दौरान युवकों की मोटरसाइकिल को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

 

घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर दोनो पक्षों के लोग एकत्र होने लगे। जिसके कारण एकबारगी शहर में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई और मुख्य बाजार में स्थित दुकानें बंद होने लगी। लौहारान चौपड़ क्षेत्र में दो पक्षों के बीच हुए विवाद की जानकारी मिलते ही मौके पर डीएसपी हीरालाल सैनी व शहर थानाधिकारी रविंद्र प्रताप डारा मय जाप्ता मौके पर पहुंचे और स्थिति को काबू करने का प्रयास करते हुए मौके पर एकत्र भीड़ को हटाया। इसके साथ ही पंडित मार्केट चौराहा, लौहारान चौपड़, पाली बाजार सहित अन्य इलाकों में पुलिस जाप्ता तैनात किया। देर रात तक स्थिति नियंत्रण में लेकिन तनावपूर्ण बनी हुई थी। 

 

लौहारान चौपड़ क्षेत्र में मंगलवार को नारेबाजी कर विवाद उत्पन्न करने वाले युवकों के खिलाफ सलीम गौरी व अन्य लोगों ने लिखित में पुलिस को शिकायत सौंपी। उनकी ओर से दी शिकायत में कहा गया कि मोटरसाइकिल पर आए कुछ युवकों ने समुदाय विशेष के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अपशब्द बोले और शहर की शांति व सौहार्द की स्थिति को नुकसान पहुंचाने का प्रयास करने लगे।